अंतिम संस्कार में शामिल होने गए शख्स की 8 साल पहले हुई थी ‘हत्या’, अब यूपी में मिला जिंदा

पटना : बिहार में 8 साल पहले नीलकंठ मिश्रा गांव की ही एक महिला के अंतिम संस्कार में शामिल होने के लिए घर से निकला था। लेकिन वापस लौट के ही नहीं आया। अचानक लापता हुए नीलकंठ के परिजनों ने पुलिस में सूचना दी। इसके बाद पुलिस और परिजनों ने उसे खोजना शुरू कर दिया। लेकिन कुछ भी हाथ नहीं लगा। इसके काफी समय बाद नीलकंठ की मां हेमा देवी ने रेंज के डीआईजी से मुलाकत कर गांव के ही 9 लोगों पर नीलकंठ की हत्या का आरोप लगाया। मामले में पहले से ही खाली हाथ पुलिस ने केस दर्ज कर लिया। आरोपित 9 लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कर दिया गया। हालांकि बाद में इस सभी को जमानत भी मिल गई। लेकिन इस घटना को यहीं तक नहीं रुकनी थी। इसके बाद इसमें एंट्री होती है उसी मर चुके इंसान की।

नीलकंठ गोरखपुर में स्माइल होम नाम की संस्था को मिलता है। यह संस्था बीते साल दिसंबर माह से इसका इलाज कर रही है। लगातार जारी इलाज के बाद वह, जो अपनी करीब सारी बातें भूल चुका होता है, आखिरकार अपने घर की जानकारी दे पाता है। इसके बाद संस्था बिहार की पुलिस को नीलकंठ के बारे में जानकारी देती है। हालांकि इसके बारे में सूचना मिलते ही पुलिस के भी हाथ पैर फूल गये।