अगर यह खिलाड़ी ना होता फ्लॉप, तो युजवेंद्र चहल हरियाणा की सड़कों पर मचा रहे होते घूम

- in खेल

आज हम आपको एक ऐसे भारतीय खिलाडी के बारे में बताने वाले है जो आज भारतीय टीम का एक दिग्गज खिलाडी है हम बात कर रहे है युजवेंद्र चहल की जो एक फ्लाप खिलाडी की जगह पर टीम में आये थे ,हरियाणा के जींद के मीडिल क्लास फैमिली से संबंध रखने वाले चहल चेस खेलने में माहिर थे, वो चेस के नेशनल खिलाड़ी भी रह चुके हैं !

अगर यह खिलाड़ी ना होता फ्लॉप, तो युजवेंद्र चहल हरियाणा की सड़कों पर मचा रहे होते घूमएक समय ऐसा आया जब चहल को चेस खेलने के लिए कोई स्पोंसर नहीं मिल रहा था, तो वो परेशान हो गए, चेस पर सालाना 6 लाख रुपये खर्च होता हैं, जिसे पूरा करने की टेंशन उन्हें हो गई बाद में उन्होंने चेस खेलना छोड़ कर क्रिकेट में प्रैक्टिस करने लगे। किसी भी पिता के लिए उसके बेटे के ख्वाब से बढ़कर कोई जगह नहीं होती, चहल के पिता के लिए भी चहल के सपने से अधिक कोई चीज अहमियत नहीं रखती हैं, खेलने के लिए कोई ठीक जगह नहीं थी तो उनके पिता ने अपने डेढ़ एकड़ जमीन को ही क्रिकेट का मैदान बना दिया ताकि वो अच्छे से प्रैक्टिस कर सके।

आज चहल लाखों कमाते हैं वो सिर्फ धोनी के साथ और स्‍वयं की मेहनत के कारण, धोनी को चहल इतने पसंद हैं कि ड्रेसिंग रुम में भी वो चहल के साथ डिनर करना पसंद करते हैं, चहल अकसर धोनी के साथ नजर आते हैं, आज चहल क्रिकेट जगत का जाना माना चेहरा है,लेकिन क्या आपको पता है कि ये टीम में किस की जगह पर आये थे शायद आपको नहीं पता होगा ,आपकी जानकारी के लिए बता दे की चहल को रविचंद्रन अश्विन के वनडे और टी-20 क्रिकेट में फ्लॉप होने के बाद मौका मिला है. आपको बता दे की अश्विन ने भारत के लिये शानदार गेंदबाजी की है और कई मैचो में जीत दिलाई ,लेकिन बाद में इनका प्रदर्शन ख़राब होता चला गया और टीम को इनको बाहर का रास्ता दिखाना पड़ा !फिर चहल को मौका दिया गया ,चहल ने अपनी शानदार गेंदबाजी से सभी को अपना दीवाना बना दिया !