अभी-अभी: झूठी खबरें और फर्जी बातें फैलाने के आरोप में फेसबुक पर लगा एक महीने का बैन

नई दिल्ली: फेसबुक को तगड़ा झटका लगा है। फर्जी खबरें फैलाने के आरोप में फेसबुक पर एक महीने का बैन लग गया है।
द गार्जियन न्यूज की एक रिपोर्ट के मुताबिक, पापुआ न्यू गिनी फेसबुक पर एक महीने के लिए प्रतिबंध लगाने जा रहा है। बता दें कि वहां की सरकार फेसबुक पर प्रतिबंध लगाने का फैसला सिर्फ यूजर्स के व्यवहार को समझने और फर्जी खबरों से उन्हें बचाने के लिए लेने वाली है।

वहीं पापुआ न्यू गिनी के कम्युनिकेशन मंत्री सैम बासिल ने अलजजीरा न्यूज से कहा, ‘इस प्रतिबंध से पापुआ न्यू गिनी नेशनल रिसर्च इंस्टीट्यूट एवं विभाग यह पता लगाने में सक्षम होगा कि यूजर्स सोशल नेटवर्किंग साइट का किस तरह से इस्तेमाल करते हैं।

फेसबुक की ओर से नहीं आया कोई बयान :
उन्होंने कहा, ‘एक महीने के अंदर उन यूजर्स की पहचान और जानकारी मिल जाएगी, जो फेसबुक पर फेक अकाउंट से अश्लील फोटो, झूठी व गुमराह करने वाली सूचना पोस्ट करते हैं, इसी अवधि में उन्हें पहचानकर फेसबुक से हटा दिया जायगा।’ हालांकि पापुआ न्यू गिनी पहला ऐसा देश नहीं है, जो फेसबुक को अपने यहां बैन करने वाला है। बता दें कि चीन, ईरान और उत्तर कोरिया समेत कई देश फेसबुक को पहले बैन कर चुके हैं। फिलहाल इस प्रतिबंध को लेकर फेसबुक की ओर से कोई आधिकारिक बयान सामने नहीं आया है।

फेसबुक के लिए नई समस्या :
गौरतलब है कि फेसबुक को पिछले कुछ दिनों में कई समस्याओं से जूझना पड़ा है। इसमें डेटा लीक और उसके बाद लोगों व कंपनियों का फेसबुक पेज डिलिट करने का मामला शामिल है। अब फेसबुक के सामने एक और नई मुसीबत आ चुकी है। अब देखना यही है कि कंपनी इस मामले से किस तरह से निपटती है।