अभी-अभी : पूर्व डिप्टी नीरज सिंह के चचेरे भाई और बीजेपी विधायक गिरफ्तार

- in फीचर्ड

झारखंड के धनबाद के पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह सहित चार लोगों की सनसनीखेज हत्या मामले में बीजेपी विधायक संजीव सिंह को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है. कांग्रेस नेता नीरज सिंह झरिया से विधायक संजीव सिंह के चचेरे भाई थे. पुलिस ने उनको इस हत्याकांड का मास्टमाइंड माना है. संजीव सिंह ने कोर्ट से वारंट लेने के बाद सरायढेला थाने में सरेंडर कर दिया.

अभी-अभी : तीन तलाक पर योगी सरकार ने दिया बड़ा बयानअभी-अभी : पूर्व डिप्टी नीरज सिंह के चचेरे भाई और बीजेपी विधायक गिरफ्तार

पुलिस उपमहानिरीक्षक साकेत कुमार ने कहा कि विधायक संजीव सिंह को सरायढील थाने में पूछताछ के बाद गिरफ्तार कर लिया गया. नीरज सिंह, उनके व्यक्तिगत सहायक, अंगरक्षक मुन्ना तिवारी और एक ड्राइवर की 21 मार्च की शाम गोली मारकर हत्या कर दी गयी थी. संजीव सिंह, उनके छोटे भाई सिद्धार्थ सिंह सहित तीन अन्य लोगों के खिलाफ केस दर्ज कराया गया है.

इस मामले में पुलिस तीन अन्य आरोपियों को दो सप्ताह पहले ही गिरफ्तार कर चुकी है. पुलिस ने पहले भी विधायक से पूछताछ की थी, लेकिन उन्हें गिरफ्तार नहीं किया था. लेकिन इस बार विधायक के साथ ही वारदात को अंजाम देने वाले शूटरों को ठहराने वाले डबलू मिश्र को भी पुलिस ने जेल भेज दिया. पुलिस जेल में बंद सभी आरोपियों से पूछताछ में जुटी हुई है.

अभी-अभी : BJP बीजेपी नेता बोले- ममता बनर्जी का सर काटकर लेकर आओ…

डीआइजी ने बताया कि वारदात का पूरा ताना-बाना संजीव और सिंह मैंशन से जुड़ा है. शूटरों को सिंह मैंशन में पनाह दिए जाने के साथ ही हथियार भी उपलब्ध कराए गए थे. विधायक के खिलाफ टेक्निकल सबूत भी पुलिस के पास हैं, जो वारदात में उनकी संलिप्तता उजागर करती हैं. नीरज सिंह की हत्या का कारण राजनीति में उनकी लोकप्रियता और रंजय हत्याकांड है.

बताते चलें कि पिछले महीने धनबाद में हुए गैंगवार में पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह समेत चार लोगों की बेरहमी से हत्या कर दी गई थी. बदमाशों ने तकरीबन 50 राउंड गोलियां चलाईं थी. नीरज सिंह को 17 गोलियां मारी गईं थीं. नीरज सिंह झरिया से भाजपा विधायक संजीव सिंह के चेचरे भाई थे. वह धनबाद विधानसभा से चुनाव भी लड़ चुके हैं.

सिंह मैंशन में तनाव के कारण झरिया विधायक संजीव सिंह और नीरज सिंह के बीच राजनीतिक खींचतान भी चल रही थी. इसी वजह से दोनों भाइयों में हमेशा टकराव बना रहता था. हाल ही में संजीव के एक सहयोगी की गोली मारकर हत्या कर दी गई थी. इसमें पूर्व डिप्टी मेयर नीरज सिंह का नाम सामने आया था. नीरज की हत्या को बदला करार दिया गया था.