अमेरिका ने एटमी हथियार खत्म करने का एकतरफा दबाव बनाया तो रद्द कर देंगे वार्ता : उत्तर कोरिया


प्योंगयोंग : हथियार खत्म करने का एकतरफा दबाव बनाने की स्थिति में डोनाल्ड ट्रम्प के साथ किम जोंग की अगले महीने प्रस्तावित वार्ता रद्द करने की धमकी दी है। वह दक्षिण कोरिया से वार्ता पहले ही रद्द कर चुका है। ट्रम्प और किम की वार्ता 12 जून को होनी है। इससे पहले उत्तरी कोरिया अपने एटमी हथियार खत्म करने की प्रतिबद्धता जता चुका है।
उत्तर कोरिया का कहना है कि अमेरिका बेतुके बयान देकर उकसा रहा है। उप विदेश मंत्री किम काई-ग्वान ने कहा है कि अमेरिका अपना रुख नहीं बदलता है तो हमें फिर से सोचना पड़ेगा कि अमेरिका के साथ प्रस्तावित समिट में शामिल हों या नहीं। वहीँ अमेरिका ने कहा है कि नॉर्थ कोरिया के रुख में बदलाव की हमें कोई जानकारी नहीं है। ट्रम्प-किम की वार्ता के लिए तैयारी जारी रहेगी। कोरिया नेशनल डिप्लोमेटिक एकेडमी के प्रोफेसर किम ह्यून-वुक का कहना है कि शायद उत्तर कोरिया वार्ता की शर्तें नए सिरे से तय करने की कोशिश कर रहा है। उन्होंने कहा, लगता है कि किम जोंग उन परमाणु निशस्त्रीकरण के लिए पहले अमेरिका की मांगें मानने के लिए मजबूर था। लेकिन चीन से रिश्ते सामान्य होने और आर्थिक मदद का भरोसा मिलने के बाद वो अपना रुख बदलने की कोशिश कर रहा है। दक्षिण कोरिया के साथ बुधवार को प्रस्तावित अपनी वार्ता को भी उत्तर कोरिया रद्द कर चुका है। उत्तर कोरिया का कहना है कि दक्षिण कोरिया के साथ अमेरिका के युद्धाभ्यास की वजह से ये फैसला लिया गया है। साउथ कोरिया ने उत्तर कोरिया के साथ होने वाली उसकी वार्ता एकतरफा रद्द किए जाने पर अफसोसजनक जताया है।