अस्पताल पहुँचाने पर नहीं खुला अस्पताल का गेट, भड़के राज्यमंत्री

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में व्यवस्थाएं दिन प्रतिदिन बढ़ से बदत्तर होती जा रही है। आम जनता की छोड़िये अब तो मंत्री व नेताओं को भी इंतज़ार करना पड़ता है। ऐसा ही कुछ मामला तब सामने आया जब उत्तर प्रदेश राज्यमंत्री मोहसिन रजा बुधवार को बलरामपुर अस्पताल में भर्ती अपनी खाला का हालचाल लेने पहुंचे। एसएस ब्लॉक का प्रवेश द्वार बंद था और गेट पर कोई गार्ड भी मौजूद नहीं था।वह काफी देर तक बाहर ही खड़े रहे। अस्पताल में इस अव्यवस्था देख उन्होंने अधिकारियों की खबर ली। अस्पताल में स्थित सुपर स्पेशलिटी ब्लॉक में दोपहर 2:40 पर अपनी खाला शकीला बानो (80) का हालचाल लेने मंत्री मोहसिन गए थे। इस दौरान फर्स्ट फ्लोर का प्रवेश द्वार बंद था। उनके सुरक्षा कर्मी काफी देर तक गार्ड को ढूंढ़ते रहे ताकि गेट खुल सके। लेकिन आधे घंटे तक कोई नहीं आया। इससे आक्रोशित होकर उन्होंने सीएमएस और अधीक्षक को तलब किया। मंत्री के काफी देर तक बाहर ही खड़े रहने की सूचना मिलते आनन-फानन में अधिकारी मौके पर पहुंचे और गेट खुलवाया। इसके लिए मंत्री ने दोनों अधिकारियों को फटकार लगाई। इस पर अस्पताल के अधीक्षक डॉ हिमांशु ने कहा कि तीमारदारों की ज्यादा भीड़ न हो इसलिए गेट बंद कर ग्राउंड फ्लोर पर एक दरवाजा खुलवाया गया।