आकाशीय बिजली से भीषण आग, 100 घर राख, 38 की मौत


संभल : उत्तर प्रदेश के संभल जिले में आकाशीय बिजली से भीषण आग से 100 घर जलकर घर राख हो गये और 38 की जान चली गयी। रविवार देर रात आए तूफान ने संभल में कहर बरपाया। पिछले दो तूफानों ने जिस तरह जानमाल को नुकसान पहुंचाया है, उससे यूपी के लोग अंधड़ से डरने लगे हैं। रविवार को देर रात आई आंधी की वजह से एक विशालकाय पेड़ गिरने से 2 लोगों की मौत हो गई, जबकि 13 लोग घायल भी हुए हैं। घायलों में 8 की हालत गंभीर होने की वजह से उन्हें इलाज के लिए अलीगढ़ रेफर कर दिया गया है। आकाशीय बिजली गिरने से दर्जनों पशु घायल भी हुए हैं। तूफान और आकाशीय बिजली के चलते लाखों रुपए की संपत्ति को भी नुकसान पहुंचा है। जिला प्रशासन की टीम राहत के लिए मौके पर पहुंचा। रजपुरा थाना क्षेत्र के चाऊपुर गांव में तेज आंधी में कूड़े से उड़कर आई चिंगारी से गांव के करीब 100 घर जलकर खाक हो गए। आग की लपटें आकाश तक उठ रही थीं। कड़ी मशक्कत के बाद आग पर काबू पाया गया। प्रशासन की तरफ से सभी लोगों के रहने, खाने पीने और अन्य सुविधाओं की व्यवस्थाएं की जा रही हैं। सरकार ने प्रशासनिक अधिकारियों को आदेश दिया है कि वे राहत का काम जल्द से जल्द पूरा करें। आग से 12 मवेशियों की झुलसने से मौत की भी सूचना मिली है।
उधर खराब मौसम के चलते अलीगढ़ में 12वीं कक्षा तक के सभी स्कूलों को सोमवार तक के लिए बंद कर दिया गया है। कासगंज में आंधी तूफान की वजह से 5 लोगों की मौत हो गई। इटावा में 1, कन्नौज में 1, बुलंदशहर में 3, संभल में 1, अलीगढ़ में 1, गाजियाबाद में 2, हापुड़ में 1 और ग्रेटर नोएडा में 1 शख्स की मौत हो गई। सहारनपुर में आंधी की वजह से 2 लोगों की मौत हुई है। अब तक यूपी में तूफान की वजह से 25 से अधिक के घायल होने की खबर है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सभी जिलों के जिलाधिकारियों से पूरी रिपोर्ट देने के लिए कहा है, सीएम योगी ने कहा कि पीड़ित परिवारों को राहत पहुंचाने का काम जल्द से जल्द पूरा किया जाए। वहीँ संभल में आंधी, तूफान की वजह से पहला हादसा गुन्नौर कोतवाली इलाके में हुआ, यहां बच्चे का मुंडन कराकर ट्रैक्टर से लौट रहे ग्रामीणों की ट्रैक्टर ट्रॉली पर पेड़ गिरने से एक युवक की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि दर्जन भर लोग बुरी तरह घायल हुए हैं। आंधी से दूसरा हादसा बहजोई थाना क्षेत्र के आगरा-मुरादाबाद हाइवे पर हुआ, चंदौसी में शादी समारोह से लौट रहे बदायूं जिले के प्रेम सिंह की स्कॉर्पियो, हाइवे पर तेज आंधी से गिरे पेड़ से टकरा गई। इस हादसे में प्रेम सिंह की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि कार में बैठा उसका साथी सोहन लाल गंभीर रूप से घायल हुआ है।वहीँ गाजीपुर में देर रात आई आंधी और बारिश से बिजली व्यवस्था चरमराई गई। पूरे शहर की बिजली रात से ही गायब है। बरेली में तूफान की वजह से 4 लोगों की मौत हुई है, यहां तूफान से एक बच्ची और महिला समेत 4 की मौत हुई है। तूफान से शीशगढ़ के बंजरिया गांव में निर्माणाधीन मस्जिद की मीनार गिरने से 45 साल की महिला और 3 साल की मासूम बच्ची की मौत हो गई। सुभाषनगर के बेनीपुर चौधरी गांव में दीवार गिरने से युवक की मौत हो गई। मिशन अस्पताल के पास तेज आंधी से नाले में गिरने से 65 साल के डेविस की मौत हो गई। कई इलाकों में रात से ही बिजली गुल है, आंधी, तूफान के बाद फैजाबाद में बिजली व्यवस्था चरमरा गई है। रविवार शाम को आए तूफान की वजह से उत्तर प्रदेश में कम से कम 23 लोगों के मारे जाने की खबर है, कई घायल हैं, जिनका इलाज जारी है। यूपी के अलग-अलग हिस्सों में तूफान के बाद भयंकर ओला बारिश भी हुई। फिरोजाबाद में आंधी तूफान के अलावा भयंकर ओला बारिश हुई।