आरबीआई ने जारी की डेडलाइन, आपका डेबिट-क्रेडिट कार्ड जल्द हो जाएगा बंद |

 नई दिल्ली : भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) की सख्ती के चलते देश भर के करोड़ों लोगों के डेबिट-क्रेडिट कार्ड बंद हो जाएंगे। केंद्रीय बैंक की तरफ से जारी दिशा-निर्देशों का पालन प्रत्येक व्यक्ति को करना होगा। बैंक भी ऐसे लोंगो को मोबाइल पर मैसेज भेजकर के अपना कार्ड बदलवाने के लिए बोल रहे हैं। 31 दिसंबर तक करना होगा काम बैंकों की तरफ से जो मैसेज ग्राहकों को भेजा जा रहा है, उसके अनुसार उन्हें इस साल 31 दिसंबर से पहले अपना कार्ड बदलवाना पड़ेगा। ऐसा इसलिए क्योंकि, बैंक ने जो लोगों को कार्ड दिए हैं वो ज्यादातर मैगनेटिक स्ट्राइप वाले हैं। ऐसे कार्ड की क्लोनिंग और फर्जीवाड़ा होने की ज्यादातर शिकायतें बैंकों के पास आती हैं। वहीं अब बैंक ईएमवी (यूरोपे, मास्टरकार्ड, वीसा) चिप कार्ड जनवरी 2016 से जारी कर रहे हैं। फ्री में बदलेगा कार्ड केंद्रीय बैंक ने अपने दिशा-निर्देश में सभी बैंकों से कहा है कि कार्ड को बदलने का खर्च उनको ही वहन करना होगा। इसके लिए बैंक किसी तरह की कोई भी राशि ग्राहकों से नहीं लेंगे। ईएमवी कार्ड में क्लोनिंग का खतरा नहीं रहता है। इन कार्ड में डाटा इनक्रिप्शन बहुत मजबूत है तथा स्टोरेज क्षमता भी पहले से काफी अच्छी है।एसबीआई ने जारी किया आदेश एसबीआई के मुताबिक, पुराने कार्ड के बदले ग्राहकों को ईएमवी चिप वाला डेबिट कार्ड लेना होगा। इसके लिए साल 2018 की डेडलाइन तय की गई है। अगर ग्राहक डेडलाइन से पहले ऐसा नहीं करेंगे तो डेडलाइन खत्म होने के बाद वह एटीएम से ट्रांजेक्शन नहीं कर सकेंगे, क्योंकि ये एटीएम मशीनें पुराने कार्ड को स्वीकार नहीं करेंगी।एसबीआई ने यह भी बताया कि एटीएम कार्ड का कनवर्जन प्रोसेस में किसी भी प्रकार का शुल्क नहीं लिया जाएगा और यह बिल्कुल मुफ्त होगा। एसबीआई का हाल ही में 6 अन्य बैंकों के साथ मर्जर हुआ है और बैंक के ग्राहकों की संख्यां में बड़ा इजाफा हुआ है। ऐसे में इस कदम का असर करोड़ों बैंक ग्राहकों पर पड़ेगा।