इस गांव मे नहीं है एक भी चाय की दुकान, वजह जानकर हैरान रह जायेंगे

- in अजब-गजब

उत्तरप्रदेश के आगरा शहर के बारे में तो आप सभी ने सुना ही होगा। दरअसल, आगरा शहर के इस छोटे से गांव मे एक अजीबोगरीब मामला सामने आया है। इस वजह से यह गांव काफी चर्चाओं में है। आज के समय में अपने देश के हर चौराहे या गली के नुक्कड़ पर चाय की दुकान आसानी से मिल जाती है।

आगरा शहर के इस छोटे से गांव मे एक भी चाय की दुकान नहीं है। जी हां, ये सच है। हम आपको इस गांव के बारे मे बताते है। आगरा शहर के इस गांव का नाम ‘कुआं खेड़ा’ है, और यह आगरा से महज 2 किमी की दूरी पर है। इस गांव मेंचाय की दुकान न होने के साथ- साथ दूध बेचना भी पाप माना जाता है। गांव के स्थानीय लोगों की मान्यता है की अगर गांव में कोई भी व्यक्ति पैसे लेकर दूध किसी को बेचता है तो गांव पर मुसीबतें आ जाएंगी।

इसी मान्यता के चलते ही इस गांव में दशकों से दूध को नहीं बेचा जाता है। हालांकि यहां आपको बहुत घरों में गाय या भैंसे बंधी मिलेंगी।  इस गांव के लोगो के घर जो भी दूध होता है। उसका उपयोग ये लोग अपने ही घर में कर लेते हैं।

यदि किसी वजह से दूध बच जाता है तो बिना पैसे लिए किसी अन्य व्यक्ति को दे देते हैं। इस गांव के प्रधान का कहना है की ‘हमारे गांव में यह प्रथा दशकों से चल रही है। यदि कोई इस मान्यता को तोड़ता है तो उसके साथ अनहोनी घट जाती है।