उच्चतम न्यायालय ने क्रिकेटर श्रीसंत पर लगे लाइफ बैन पर बीसीसीआई को फिर से विचार करने को कहा

  • बीसीसीआई ने 15 मई, 2018 को श्रीसंत की अपील का किया था विरोध

नई दिल्ली : क्रिकेटर एस. श्रीसंत पर सुप्रीम कोर्ट ने आईपीएल स्पॉट फिक्सिंग मामले में आजीवन प्रतिबंध हटा दिया है। सुप्रीम कोर्ट ने क्रिकेटर श्रीसंत पर लगे लाइफ बैन पर बीसीसीआई को फिर से विचार करने को कहा है। श्रीसंत पर स्पॉट फिक्सिंग के तहत लाइफ बैन लगाया गया था। सुप्रीम कोर्ट ने बीसीसीआई से कहा है कि वो तीन महीने के अंदर इस पर विचार करे। जस्टिस अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली सुप्रीम कोर्ट की एक बेंच ने बीसीसीआई से कहा कि वो एस श्रीसंत को दी गई सजा की अवधि के बारे में फैसला करे। श्रीसंत पर लाइफ बैन लगाया गया था। श्रीसंत इस समय सनसनीखेज स्पॉट फिक्सिंग मामले में संलिप्तता की वजह से लाइफ बैन का सामना कर रहे हैं। श्रीसंत को कथित स्पॉट फिक्सिंग से संबंधित आपराधिक मामले में निचली अदालत 2015 में आरोप मुक्त कर चुकी है। इससे पहले इस याचिका पर सुनवाई के दौरान श्रीसंत की ओर से दलील दी गई थी कि बीसीसीआई द्वारा उस पर लगाया गया बैन बहुत ही कठोर है और इस दावे के समर्थन में कोई साक्ष्य नहीं है कि वह किसी अवैध गतिविधि में शामिल थे। इससे पहले केरल हाई कोर्ट ने श्रीसंत पर बीसीसीआई द्वारा लगाए गए आजीवन प्रतिबंध को बरकरार रखा था। इसी फैसले को श्रीसंत ने शीर्ष अदालत में चुनौती दी थी।