उत्तराखंड के दो मंत्रियों के समर्थक हरिद्वार में भिड़े, चले लाठी-डंडे

अतिक्रमण हटाने के मुद्दे पर उत्तराखंड के दो कैबिनेट मंत्रियों के समर्थक आपस में भिड़ गए. मारपीट सतपाल महाराज और मदन कौशिक के समर्थकों के बीच हुई. दोनों तरफ से कई लोग घायल हुए हैं. हरिद्वार के मेयर मनोज गर्ग और कई अधिकारियों के साथ भी हाथापाई हुई. उत्तराखंड के दो मंत्रियों के समर्थक हरिद्वार में भिड़े, चले लाठी-डंडे बताया जा रहा है कि मूसलाधार बारिश से हरिद्वार में जगह जगह पानी भर गया. सतपाल महाराज के प्रेमनगर आश्रम के पास पानी की निकासी के लिए नगर निगम की टीम जेसीबी मशीन के साथ कार्रवाई में जुटी थी. पानी की सही ढंग से निकासी हो सके इसलिए नाले के ऊपर बने पक्के स्लैब्स को तोड़ा जा रहा था. प्रेमनगर आश्रम के सामने नाले पर बने स्लैब को जब तोड़ना शुरू किया गया तो सतपाल महाराज के समर्थकों ने इसका विरोध किया.  

गाजियाबाद में रेल ट्रैक पर मिला बिहार के बक्सर जिले के DM मुकेश पांडे का शव

जब ये कार्रवाई चल रही थी तो मेयर मनोज गर्ग भी वहीं मौजूद थे. दरअसल पास की कॉलोनी के लोगों को आरोप था कि नाले पर स्लैब बने होने की वजह से पूरे क्षेत्र में पानी भर जाता है. देखते ही देखते वाद विवाद होने लगा. कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक के कई समर्थक भी मौके पर मौजूद थे और वो भी नाले से स्लैब हटाने पर जोर देने लगे. आरोप है कि आश्रम समर्थक लाठी-डंडों और लोहे की रॉड लेकर दूसरे पक्ष के लोगों से भिड़ गए. फिर दोनों तरफ से ही मारपीट होने लगी.

टकराव की सूचना मिलने पर भारी पुलिस बल के साथ अधिकारी मौके पर पहुंचे. किसी तरह पुलिस ने स्थिति पर काबू पाया. दोनों ही पक्ष एक दूसरे के खिलाफ कार्रवाई की मांग करते दिखे. प्रशासन और पुलिस की ओर से दोनों पक्षों को समझाने की कोशिश की जाती रही.

 
loading...