उत्तराखंड के मंगलानंद का हुआ 102 की उम्र में निधन, कई जंग लड़ने वाले सेनानी

- in उत्तराखंड, राज्य

ऋषिकेश: द्वितीय विश्व युद्ध सहित चीन और पाकिस्तान के खिलाफ जंग लड़ चुके 102 वर्षीय सेनानी मंगलानंद सेमवाल का गुरुवार को निधन हो गया। उनके निधन पर सामाजिक व राजनीतिक लोगों ने दुख व्यक्त किया। उत्तराखंड के मंगलानंद का हुआ 102 की उम्र में निधन, कई जंग लड़ने वाले सेनानी

मूल रूप से ग्राम तौलसारी खेड़ा तल्ला यमकेश्वर पौड़ी निवासी मंगलानंद सेमवाल पुत्र सदानंद 1998 से मीरा नगर ऋषिकेश स्थित अपने पुत्र सुभाष चंद्र सेमवाल के साथ रह रहे थे। तड़के 4:30 बजे उन्होंने अंतिम सांस ली।

उनके पुत्र सुभाष चंद्र सेमवाल उत्तराखंड शासन में एजी ऑडिट के पद पर कार्यरत हैं। अपने पीछे वह अपनी पत्नी जानकी देवी (90) और चार पुत्रियों का भरा पूरा परिवार छोड़ गए हैं। 

सुभाष सेमवाल ने बताया कि उनके पिता ने 1941 से 1943 तक द्वितीय विश्व युद्ध लड़ा। आजादी के बाद वह भारतीय सेना में शामिल हो गए। 1962 में उन्होंने चीन के खिलाफ और 1965 मैं उन्होंने पाकिस्तान के खिलाफ युद्ध लड़ा। 

उनका अंतिम संस्कार यमकेश्वर प्रखंड के कौड़िया स्थित गौरी घाट पर किया जाएगा। उनके निधन पर यमकेश्वर की विधायक रितु खंडूरी सहित स्थानीय जनप्रतिनिधियों ने गहन शोक व्यक्त किया है।