उन्नाव कांड: मेडिकल के लिए लोहिया अस्पताल पहुंची पीड़िता

उन्नाव से कड़ी सुरक्षा के बीच सीबीआई टीम पीड़िता को शनिवार सुबह लखनऊ के राम मनोहर लोहिया अस्पताल लेकर पहुंची। यहां पीड़िता का मेडिकल होना है। इसके बाद पीड़िता और उसके परिवार को सीबीआई दफ्तर लखनऊ लाया जाएगा, जहां उनका सामना आरोपी विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से कराया जाएगा। वहीं, सीबीआई ने रात 1ः30 बजे सेंगर का मेडिकल करवाया है। उन्नाव कांड: मेडिकल के लिए लोहिया अस्पताल पहुंची पीड़िता, आरोपी विधायक से कराया जाएगा आमना-सामना

उन्नाव गैंगरेप के आरोपी बांगरमऊ से भाजपा विधायक कुलदीप सिंह सेंगर से शनिवार को भी पूछताछ जारी है। इससे पहले उनका सामना माखी थाने के निलंबित छह पुलिसकर्मियों से कराया गया। दोपहर तक सीबीआई कोर्ट में उन्हें पेश कर विधायक की ट्रांजिट रिमांड के लिए सीबीआई याचिका दाखिल कर सकती है।  

सीबीआई ने शुक्रवार तड़के 4:30 बजे आरोपी विधायक को उसके इंदिरा नगर स्थित आवास से हिरासत में लिया था। इसके बाद करीब 17 घंटे तक विधायक से पूछताछ की। इसी बीच, इलाहाबाद हाईकोर्ट ने भी विधायक को गिरफ्तार न किए जाने पर सरकार को फटकार लगाई। इसके बाद सीबीआई ने रात 9:30 बजे सेंगर को गिरफ्तार किया। 

सवालों के जवाब में कई बार अटके सेंगर

लखनऊ स्थित सीबीआई मुख्यालय पर पूछताछ के दौरान कई बार आरोपी विधायक कुलदीप सेंगर कई बार उलझ गए। एसपी सीबीआई राघवेंद्र वत्स की मौजूदगी में एक के बाद एक करीब 25 से भी ज्यादा सवाल किए गए।

सोशल मीडिया पर वायरल खबरों से जुड़े सवालों के जवाब देने में विधायक कई बार उलझे और असहज हुए। विशेषतौर पर पीड़िता के साथ एक आरोपी की हुई बातचीत से संबंधित ऑडियो के बारे में सीबीआई ने कई सवाल किए। 

इसके अलावा सीबीआई की एक टीम ने उन्नाव जाकर भी गहन पड़ताल की। पीड़िता और उशके परिवार के बयान लेने के साथ ही जिला अस्पताल के सीएमएस, माखी थाने के एसओ अशोक सिंह भदौरिया समेत अन्य निलंबित स्टाफ से गहन पूछताछ की। एसके बाद शासन ने पीड़िता के पिता के इलाज में लापरवाही बरतने के आरोप में उन्नाव के सीएमएस और ईएमओ को निलंबित कर दिया है।