एक डोसे की वजह से टूट गई लड़की की शादी, पूरी खबर पढ़ कर रह जायेंगे हैरान

- in अजब-गजब

फीचर्ड डेस्क: आज हम आपको जिस खबर से रूबरू करवाने वाले है, उसके बारे में जान कर आप हैरान रह जायेंगे. जी हां आपकी जानकारी के लिए बता दे कि यह खबर यूपी के कानपुर शहर की है. जहाँ एक डोसे की वजह से लड़का और लड़की का रिश्ता होते होते रह गया. वैसे आपने आज तक दहेज़ की वजह से और धोखाधड़ी की वजह से तो रिश्ते टूटते हुए कई बार सुना होगा, लेकिन एक डोसे की वजह से शादी टूटने का यह पहला मामला सामने आया है. यकीनन आप भी जानने चाहते होंगे कि आखिर डोसे ने ऐसी क्या गलती कर दी, जो लड़का और लड़की का रिश्ता ही टूट गया. तो चलिए अब आपको इस खबर के बारे में विस्तार से बताते है.

एक डोसे की वजह से टूट गई लड़की की शादी, पूरी खबर पढ़ कर रह जायेंगे हैरानगौरतलब है कि कानपुर देहात के मंगलपुर थाना क्षेत्र में कौरु गांव के रहने वाले प्रमोद कौशल ने अपनी बेटी प्रियंका की शादी हरदोई के कुठावा गांव में रहने वाले नीरज से तय की थी. आपकी जानकारी के लिए बता दे कि लड़की के पिता अनाज और खेती का व्यापार करते है. बरहलाल शादी की पूरी बात पक्की हो चुकी थी और बीते रविवार को हरदोई से दुल्हन को ले जाने के लिए बारात निकल भी चुकी थी. बता दे कि द्वार की रस्म पूरी होने के बाद सभी लोग खाना खाने के लिए पंडाल की तरफ चले गए. इस दौरान दूल्हे की भाभी भी वहां सब के साथ बैठ कर डोसा खा रही थी. मगर दूल्हे की भाभी को डोसे का स्वाद कुछ खास अच्छा नहीं लगा. जिसके कारण उन्होंने सब के सामने इस बात को लेकर हंगामा खड़ा कर दिया.

 

केवल इतना ही नहीं इसके इलावा दुल्हन के चाचा को बुला कर दूल्हे की भाभी ने उन्हें भी खूब खरी खोटी सुनाई और वही डोसा दुल्हन के चाचा के मुँह पर मार दिया. जी हां आपको जान कर हैरानी होगी कि पंडाल में बहुत ज्यादा लोग मौजूद थे और दूल्हे की भाभी ने उन सब के सामने ही दुल्हन के चाचा की बेइज्जती करना शुरू कर दिया. वही इस हंगामे के बीच दुल्हन पक्ष की तरफ से चाचा के बेटे, उसके भाई और लड़की के पिता भी वहां पहुँच गए. वही दूसरी तरफ जब लड़के वालो को इस हंगामे का पता चला, तो विवाद और ज्यादा बढ़ गया.

यहाँ तक कि दोनों पक्षों में मार पीट तक होने लगी. आपको जान कर ताज्जुब होगा कि इस मार पीट के दौरान जिसके हाथ में जो भी चीज आयी, वही एक दूसरे पर फेंकने लगे. जी हां देखते ही देखते शादी का पंडाल जंग का मैदान बन गया. मगर इसके बाद दुल्हन ने जो किया, वो वास्तव में काफी काबिल के तारीफ था. बता दे कि इतने हंगामे के बाद दुल्हन ने खुद शादी से इंकार कर दिया और लड़के वाले बिना दुल्हन लिए ही बारात लेकर वापिस लौट गए.

 

वैसे भी जो लड़के वाले शादी से पहले एक डोसे को लेकर इतना हंगामा कर सकते है, वो बाद में लड़की के साथ क्या क्या करेंगे, ये कहना भी मुश्किल है. बता दे कि लड़की ने खुद सामने आकर ये कहा कि उसके लिए उसके पापा और चाचा की इज्जत से बढ़ कर कुछ भी नहीं है. इसलिए वो ये शादी अब नहीं करेगी. बस लड़की के इतना कहने के बाद ही बारात लौट गई.

बरहलाल हम तो यही कहेगे कि इस लड़की ने जो किया है, अगर वैसी ही हिम्मत हर लड़की दिखाएँ, तो लड़के वालो का मुँह ही बंद हो जाए और फिर किसी लड़की को शर्मिंदा न होना पड़े.