एक देश एक चुनाव संभव, इससे अच्छा कुछ भी नहीं : राजनाथ


लखनऊ : केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह शनिवार को लखनऊ में ‘हिन्दुस्तान शिखर समागम 2018’ में शामिल हुए। उन्होंने कहा कि एक देश-एक चुनाव संभव है। इससे बेहतर कुछ भी नहीं है। प्रधानमंत्री ने पहल की है कि सारे चुनाव एक साथ हो जाएं, बार-बार चुनाव से लोग परेशान होते हैं। यह फैसला देशहित में है।

राजनाथ ने क्या कहा
– इस देश के लोकतांत्रिक मूल्यों की बात है उसके लिए सरकार प्रतिबद्ध है। हम कभी भी देश की हेल्दी डेमोक्रेसी को प्रभावित करने का मौका नहीं देंगे।
– नक्सली 126 जिलों से सिमटकर 10-12 जिलों में रह गए है। लेकिन अब नक्सली दूसरा रास्ता अपना रहे हैं वह शहरों में आ गए हैं । वह अपनी विचारधारा से लोगों को प्रभावित करने का काम कर रहे हैं, यह जानकारी एजेंसियों के जरिए प्राप्त हुई है। गिरफ्तारी उनकी पहले भी हो चुकी है। आरोप गंभीर है किसी सरकार को गिराने की साजिश करना या वायलेंस को प्रमोट करने के लिए अपनी विचारधारा का सहारा लेना। अब मामला कोर्ट के विचाराधीन है, अब वही अंतिम फैसला होगा।
– राजनाथ सिंह ने कहा कि जम्मू कश्मीर की समस्या को लेकर पड़ोसी देश हमेशा भारत को तोड़ने की साजिश करता रहता है जबकि भारत ने हमेशा पड़ोसी देशों के साथ अच्छे संबंध रखने की पहल की है। इस पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बिहारी वाजपेयी ने लाहौर यात्रा पर भी गए थे। वह कहते थे कि जिंदगी में देश बदल सकते हैं पड़ोसी नहीं। हम लोगों ने सब कुछ किया लेकिन मैं कहता हूं कि पाकिस्तान को अपनी हरकतों से बाज आना पड़ेगा।
– हमारी सरकार ने नक्सल वाद पर कड़ी कार्रवाई की है देश के 126 जिलों में नक्सलवादी ऐसा करते थे हवा सिमटकर 10:12 जिलों में रह गए हैं। लेकिन अब नक्सली दूसरा रास्ता अपना रहे हैं। वह शहरों में आ गए हैं और अपनी विचारधारा से लोगों को प्रभावित करने का काम कर रहे हैं। यह जानकारी एजेंसियों के जरिए प्राप्त हुई है।
– कश्मीर में हालात जो पैदा हुए हैं वह पहले से ही हैं। मैं देश के लोगों को आश्वस्त करना चाहता हूं कि देश को अब कश्मीर की समस्या का पूरा समाधान देंगे। जम्मू कश्मीर की समस्या को लेकर पड़ोसी देश हमेशा भारत को तोड़ने की साजिश करता रहता है, जबकि भारत ने हमेशा पड़ोसी देशों के साथ अच्छे संबंध रखने की पहल की है। इस पर पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी बिहारी वाजपेयी लाहौर यात्रा पर भी गए थे और वह कहते थे कि जिंदगी में पड़ोसी नहीं बदल सकते हैं। हम लोगों ने सब कुछ किया लेकिन मैं कहता हूं कि पाकिस्तान को अपनी हरकतों से बाज आना पड़ेगा।
-ऐसा नहीं है कि सोशल मीडिया की वजह से ही हमारी सरकार 2014 में बनी। फेक न्यूज, पॉर्नोग्राफी आदि को रोकना भी हमारी जिम्मेदारी है। इस बात की हम कैसे इजाजत दे दें कि जो बच्चों को नहीं देखना चाहिए, वह देखें।
– केंद्रीय गृहमंत्री राजनाथ सिंह ने डॉन को पकड़ने को लेकर कहा कि वह पड़ोसी के घर में है।
– मॉब लिंचिंग नहीं होनी चाहिए। अब तक की सबसे बड़ी मॉब लिंचिंग साल 1984 में हुई थी।
– एससी-एसटी एक्ट से किसी का उत्पीड़न नहीं हो रहा है ना ही होगा। यह कोई नया एक्ट नहीं बना है जो पुराना एक्ट है वही है। इसका दुरुपयोग कहीं पर होगा तो राज्य सरकारें इस पर संज्ञान लेंगी।
– बढ़ते पेट्रोल के दाम का विकल्प हम लोग निकाल लेंगे। सिर्फ भारत की मुद्रा नहीं गिरी है अन्य देशों मुद्रा में भी गिरावट आई है। डॉलर के मुकाबले यह अंतरराष्ट्रीय परिस्थितियों का कारण हुआ है। हम अपना एक्सपोर्ट बढ़ाएंगे और आईटी का एक्सपोर्ट ज्यादा होगा।