एक बाइक सवार के गले में फंसा मांझा, फ्लाईओवर के नीचे गिरने से मासूम की मौत

- in दिल्ली, राज्य

नई दिल्ली। गले में मांझा फंसने से बाइक सवार चाचा-भतीजी बदरपुर फ्लाईओवर से नीचे आ गिरे। हादसे में भतीजी की मौत हो गई, जबकि चाचा अस्पताल में भर्ती है। पुलिस ने बताया कि इंद्रपुरी निवासी मोहन (35) अपनी भतीजी दीप्ति (5) के साथ बुलेट बाइक से गुरुवार शाम रिश्तेदार के यहां फरीदाबाद जा रहे थे। करीब सात बजे बदरपुर फ्लाईओवर पर अचानक उनकी गर्दन में मांझा फंस गया।

मांझा गर्दन से छूते ही कट लगा तो मोहन छटपटा गए। इसके चलते अनियंत्रित होकर बाइक फ्लाईओवर पर ही पलट गई। जबकि मोहन और दीप्ति फ्लाईओवर से नीचे आ गिरे। राहगीरों ने गंभीर अवस्था में दोनों को पास के अस्पताल में भर्ती कराया। यहां इलाज के दौरान दीप्ति की मौत हो गई, जबकि मोहन की हालत गंभीर है। दक्षिणी-पूर्वी दिल्ली जिले के डीसीपी का कहना है कि शिकायत पर अज्ञात आरोपितों पर मुकदमा दर्ज किया गया है।

पहले भी हुए हैं इस तरह के हादसे
इससे पहले अगस्त 2015 में उत्तर पूर्वी दिल्ली के गोकलपुरी थाना इलाके में गले में पतंग का मांझा फंसने से मौत हो गई थी। घटना उस वक्त हुई थी जब चांद बाग गली नंबर 21 में रहने वाला हाशिम अपने दोस्त को बाइक से लेने के लिए यमुना विहार गया था। दोस्त को लेने के बाद हाशिम ने उसे दूसरी बाइक पर बिठा दिया और अकेला ही अपनी बाइक से घर लौट रहा था। इसी दौरान रास्ते में पतंग का मांझा उसके गले में फंस गया था।

मांझे के गले में फंसने की हाशिम का गले में गहरा घाव हो गया था जिसके बाद उसे पास के निजी अस्पताल ले जाया गया जहां से उसे गुरू तेग बहादुर अस्पताल रेफर कर दिया गया। गुरू तेग बहादुर अस्पताल में इलाज के दौरान ही हाशिम की मौत हो गई थी।