एक बार फिर ली मौसम ने करवट, पहाड़ों पर बर्फबारी और बारिश से बढ़ी ठिठुरन

मौसम ने करवट बदल एक बार फिर ठिठुरने पर मजबूर कर दिया है. जम्मू- कश्मीर में लगातार हो रही बर्फबारी ने आम जीवन अस्त- व्यस्त कर दिया है. मौसम विभाग ने अगले 24 घंटे इसी तरह की भारी बर्फबारी के बाद एवलांच की चेतावनी दी है. वहीं बारामूला, गुलमर्ग, कुपवाड़ा समेत कई इलाकों में लोगों को अलर्ट किया गया है. श्रीनगर में 4 इंच मोटी बर्फ की परत जम गई है. बर्फबारी से जम्मू- श्रीनगर नेशनल हाईवे बंद कर दिया गया है.एक बार फिर ली मौसम ने करवट, पहाड़ों पर बर्फबारी और बारिश से बढ़ी ठिठुरन

बिछी बर्फ की चादर

दूर- दूर तक बर्फ की सफेद चादर बिछ गई है. पेड़ों से लेकर पहाड़ियों तक, घरों से लेकर सड़कों तक बर्फ के सिवा आपको कुछ नहीं नजर आ रहा होगा. राजौरी में लगातार हो रही बर्फबारी ने तापमान गिरा दिया है. यातायात और आम जनजीवन पूरी तरह से ठप्प हो गया है.

बर्फबारी से सड़कों पर लगा जाम

भारी बर्फबारी जहां स्थानीय लोगों के लिए परेशानी का सबब बनी हुई हैं. वहीं सैलानियों के लिए ये किसी मस्ती से कम नहीं हैं. बर्फबारी के चलते सड़कों पर जाम लग गया है. ट्रकों की लंबी कतारें लगी हुई हैं. बर्फबारी ने लोगों को परेशान कर रखा हैं.

हिमाचल में भारी बर्फबारी

वहीं हिमाचल प्रदेश में भी हाल बेहाल हैं. मौसम ने पूरी तरह से यू टर्न मार लिया है. हिमाचल प्रदेश में शिमला के साथ ऊपरी इलाकों में ज़बरदस्त बर्फ गिर रही है. तो बारिश भी हो रही है. मौसम के इस बदलाव के चलते समूचा हिमाचल प्रदेश शीतलहर की चपेट में आ गया है.

किसानों के चेहरे पर खुशी

हिमाचल में पिछले कई महीनों से बारिश ना होने से सूखे जैसे हालात हो गए थे. अब बर्फबारी के साथ- साथ बारिश भी हुई तो किसानों के चेहरों की रंगत बदल गई है. हिमाचल प्रदेश में गेंहू और सेब की फसल बर्बाद होने की कागर पर थी, लेकिन बर्फबारी ने उसे बचा लिया. मौसम विभाग की मानें तो अगले 24 घंटे तक हिमाचल प्रदेश में बारिश और बर्फबारी जारी रहने के आसार हैं.