एनसीआर का सबसे लंबा मेट्रो रूट तैयार, दिल्ली मेट्रो का एक और तोहफा

नोएडा : एनसीआर का सबसे लंबा मेट्रो रूट “नोएडा-ग्रेटर नोएडा” बनकर तैयार हो गया है। इस रूट पर नोएडा सेक्टर-71 से लेकर ग्रेटर नोएडा डिपो 29.707 किलोमीटर तक सोमवार से मेट्रो का ट्रायल शुरू कर दिया गया है। नवंबर में लोगों के लिए इसका अाधिकारिक संचालन शुरू किया जा सकता है। ऐसे में अनुमान लगाया जा रहा है, कि अक्टूबर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नोएडा आकर एक्वा लाइन मेट्रो का उद्घाटन कर सकते हैं। इसकी तैयारी भी नोएडा मेट्रो रेल कॉरपोरेशन “एनएमआरसी” अधिकारियों ने शुरू कर दी है। “नोएडा-ग्रेटर नोएडा” एक्वा लाइन मेट्रो पहली बार सोमवार को सेक्टर-71 मेट्रो स्टेशन पहुंची। इस दौरान दिल्ली मेट्रो रेल कॉरपोरेशन “डीएमआरसी” सहित “एनएमआरसी” के तमाम अधिकारी मौजूद रहे। दिन भर मेट्रो का ट्रायल नोएडा के सेक्टर-71 से लेकर ग्रेटर नोएडा ग्रेटर मेट्रो डिपो तक चलता रहा।

इस दौरान 29.707 किलोमीटर में पड़ने वाले सभी 21 स्टेशनों पर मेट्रो को रोका गया| तमाम तकनीकी पहलुओं का अध्ययन किया गया। मेट्रो ट्रायल में सोमवार को अनुसंधान अभिकल्प तथा मानक संगठन “आरडीएसओ” की अगुवाई में मेट्रो का स्पीड टेस्ट भी किया गया। इसमें यह चेक किया गया, कि एक स्टेशन से दूसरे स्टेशन तक मेट्रो पहुंचने में स्पीड 72 से 80 किलोमीटर रखी जा सकती है। इसके साथ ही ट्रायल के दौरान मेट्रो संचालन से संबंधित डाटा एकत्र किया गया। इसमें मेट्रो की फ्रिक्वेंसी से लेकर स्टेशन पर ठहराव की स्थिति, लाइट ठीक से काम कर रही है, या नहीं| इसके अलावा, मेट्रो की बैटरी व बैकअप, ट्रैक की घरघराहट तक जांची गई। इस दौरान मौजूद अधिकारियों ने बताया कि अक्टूबर तक यह ट्रायल जारी रहेगा। जल्द ही मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त “सीएमआरएस के सामने अधिकारी संचालन का प्रस्ताव रखेंगे। इसकी अनुमति मिलेते ही नोएडा से ग्रेटर नोएडा रूट पर एक्वा लाइन मेट्रो का संचालन नवंबर में शुरू कर दिया जाएगा। नोएडा सेक्टर-71, सेक्टर-50, सेक्टर-78, सेक्टर-101, सेक्टर-81, दादरी रोड, सेक्टर-83, सेक्टर-137,सेक्टर-142, सेक्टर-143, सेक्टर-144, सेक्टर-145, सेक्टर-146, सेक्टर-147, सेक्टर-148, नॉलेज पार्क-2, परी चौक, अल्फा-एक, डेल्टा-एक | ट्रायल के बाद मेट्रो रेल सुरक्षा आयुक्त “सीएमआरएस” से मंजूरी के लिए जल्द ही प्रस्ताव रखा जाएगा। यहां से फाइनल मंजूरी मिलने के बाद मेट्रो का संचालन शुरू किया जाएगा। पीडी उपाध्याय कार्यकारी निदेशक, “एमएमआरसी” के मुताबिक, नोएडा-ग्रेटर नोएडा मेट्रो रूट पर बुधवार को 29.707 किलोमीटर लंबे ट्रैक पर मेट्रो का ट्रायल किया गया। इस दौरान कई तकनीकी पहलुओं का निरीक्षण भी किया गया। इससे लोगों को सुरक्षित सफर इस रूट पर उपलब्ध कराया जा सके। पहले दिन ही ट्रायल सफल रहा है।