एशियन गेम्स : बजरंग पूनिया ने दिलाया पहला गोल्ड मेडल, प्रधानमंत्री ने दी बधाई


जकार्ता : 18 वें एशियाई खेलों में पहलवान बजरंग पूनिया ने भारत को पहला गोल्ड मेडल दिलाया। ये मेडल पुनिया ने जापान के रेसलर ताकातिनी दायची को हराकर जीता। बजरंग ने पुरुषों के 65 किलोग्राम भारवर्ग फ्रीस्टाइल स्पर्धा में ये मेडल जीता। जापानी पहलवान को चित्त करते ही बजरंग ने भारत की झोली में पहला स्वर्ण पदक डाल दिया। जापानी पहलवान ने बजरंग को अच्छी टक्कर दी, लेकिन उन्होंने फाइनल मुकाबला 11-8 से अपने नाम कर लिया। बजरंग की इस उपलब्धि पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें बधाई दी। इससे पहले पूनिया ने सेमीफाइनल मुकाबले मंगोलिया के बाटमगनाई बैटचुलुन को 10-0 से मात दे फाइनल में प्रवेश किया।

बजरंग ने शुरू से तेज और आक्रामक खेल खेला। मंगोलिया के खिलाड़ी ने हालांकि कुछ देर साहस दिखाया, लेकिन जैसे ही बजरंग ने उनको पलटते हुए दो अंक हासिल किए, उनका मनोबल टूट गया। इसके बाद भारतीय खिलाड़ी अपने विपक्षी पर दो-दो अंकों के लगातार चार दांव लगाते हुए 8-0 की बढ़त ले ली। बाटमगनाई बैटचुलुन को इस दौरान आंख के नीचे भी चोट लगी। पहले राउंड की समाप्ति के बाद तक बजरंग ने 8-0 की बढ़त ले ली थी। दूसरे राउंड में बजरंग ने एक और दो अंक का दांव खेल स्कोर 10-0 किया और तकनीकी दक्षता के आधार पर उन्हें विजेता घोषित कर दिया गया। गौरतलब है कि 2014 में इंचियोन में खेले गए एशियाई खेलों में भी बजरंग ने रजत पदक जीता था। स्वर्ण पदक जीतने के बाज बजरंग पूनिया ने ट्वीट किया और लिखा कि मैं अपना ये मेडल पूर्व प्रधानमंत्री स्वर्गीय अटल बिहारी बाजपेयी को समर्पित करता हूं, नमन।