एशियन गेम्स में इतिहास रचने वाली ‘गोल्डन गर्ल’ विनेश ने स्वदेश आते ही की सगाई

- in खेल

स्टार महिला पहलवान विनेश फोगाट ने इंडोनेशिया में एशियाई खेलों में स्वर्ण पदक जीतकर स्वदेश लौटने के बाद सोमवीर राठी से सगाई कर ली. विनेश महिलाओं के 50 किग्रा वर्ग के खिताबी मुकाबले में जापान की यूकी इरी को एकतरफा मुकाबले में 6-2 से हराकर एशियाई खेलों में स्वर्ण जीतने वाली पहली भारतीय महिला पहलवान बनी थीं.

इंडोनेशिया से स्वदेश लौटने के बाद विनेश फोगाट ने शनिवार रात इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे पर सोमवीर को अंगूठी पहनाकर सगाई कर ली. रात करीब 10 बजे तिरंगा ओढ़े विनेश हवाई अड्डे से जब बाहरी निकलीं, तो वहां उनके गांव से काफी संख्या में लोग उनके स्वागत के लिए पहुंचे थे जिन्होंने पुष्प वर्षा कर उनका स्वागत किया.

हवाई अड्डे के बाहर पार्किंग क्षेत्र के पास विनेश और सोमवीर की सगाई की रस्म निभाई गई. शनिवार को ही विनेश का जन्मदिन भी था और उन्होंने इस मौके पर हवाई अड्डे पर ही केक काटा.

चरखी दादरी के बलाली की 24 साल की विनेश और सोनीपत के खरखौदा के सोमवीर ने एक-दूसरे को रिंग पहनाई. इस दौरान विनेश की मां और सोमवीर के परिजन भी मौजूद थे. विनेश ने सगाई की पुष्टि करते हुए कहा की हम जल्दी ही विवाह बंधन में बंधेंगे.

विनेश के ताऊ महाबीर फोगाट ने इस मौके पर कहा, ‘बच्चे समझदार हो गए हैं और हमने आपसी सहमति से इनकी सगाई करने का फैसला किया.’

‘फीके’ स्वागत से विनेश मायूस

पहलवान विनेश फोगाट स्वर्ण जीतकर अपने घर लौटीं, लेकिन कथित तौर पर हरियाणा और केंद्र सरकार का कोई भी प्रतिनिधि उनके स्वागत के लिए हवाई अड्डे पर नहीं था. इस संबंध में हरियाणा सरकार ने स्पष्टीकरण दिया कि उसे विनेश के आने की जानकारी नहीं थी.

फीके स्वागत से विनेश और उनके परिजन के मायूस होने के बीच प्रदेश के कृषि मंत्री ओम प्रकाश धनखड़ ने किसी अधिकारी या मंत्री के नहीं पहुंचने के मामले में सरकार का बचाव किया. उन्होंने कहा कि सरकार को विनेश के आने की जानकारी नहीं थी.