कनाडा में आयोजित अन्तर्राष्ट्रीय रोबोटिक प्रतियोगिता में सी.एम.एस. छात्र टीम को 500 अमेरिकी डालर का पुरस्कार, स्वदेश वापसी पर भव्य स्वागत

- in लखनऊ


लखनऊ : सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) का 4 सदस्यीय दल कनाडा में आयोजित ‘इण्टरनेशनल आॅटोनाॅमस रोबोट रेसिंग प्रतियोगिता (आई.ए.आर.आर.सी.-2018)’ में प्रतिभाग कर स्वदेश लौट आया। स्वदेश वापसी पर विद्यालय के शिक्षकों व अभिभावकों ने अमौसी एअरपोर्ट पर इस छात्र दल का स्वागत किया एवं विदेश में देश का गौरव बढ़ाने के लिए बधाई दी। सी.एम.एस. के मुख्य जन-सम्पर्क अधिकारी हरि ओम शर्मा ने बताया कि यह अन्तर्राष्ट्रीय रोबोट रेसिंग प्रतियोगिता यूनिवर्सिटी आॅफ वाटरलू, कनाडा में आयोजित हुई, जिसमें अमेरिका, कनाडा, पोलैण्ड, थाईलैण्ड, इजिप्ट आदि 17 देशों की यूनिवर्सिटी स्तर की टीमों ने प्रतिभाग किया तथापि सी.एम.एस. टीम ‘अश्व’ ही एकमात्र स्कूल स्तर की टीम थी।

प्रतियोगिता में सी.एम.एस. छात्रों ने ड्रैग रेस एवं सर्किट रेस प्रतियोगिताओं में प्रतिभाग कर अपनी वैज्ञानिक प्रतिभा व ज्ञान-विज्ञान का जोरदार प्रदर्शन किया एवं सी.एम.एस. टीम को निर्णायक मंडल द्वारा 500 अमेरिकी डालर के पुरस्कार से नवाजा गया। सी.एम.एस. गोमती नगर (प्रथम कैम्पस) की टीम ‘अश्व’ में छात्र सदस्य आस्तिक सलूजा, उत्कर्ष सिंह एवं कार्तिकेय खन्ना शामिल थे। छात्र दल का नेतृत्व विद्यालय के शिक्षक सिद्दीक आलम खान ने किया। श्री शर्मा ने बताया कि यह अन्तर्राष्ट्रीय रोबोटिक प्रतियोगिता तीन श्रेणियों डिजाइन, ड्रैग एवं सर्किट रेस के अन्तर्गत सम्पन्न हुई जिसके अन्तर्गत प्रतिभागी छात्रों ने हाई स्पीड व्हिकल लोकलाईजेशन, हाई स्पीड व्हिकल कंट्रोल, स्टाॅप लाइट एण्ड लेन मार्किंग डिटेक्शन, कोलिजन एवाइडेन्स विद स्टेटिक आब्जेक्ट आदि में अपने ज्ञान-विज्ञान व हुनर का प्रदर्शन किया। श्री शर्मा ने आगे कहा कि सी.एम.एस. अपने छात्रों का दृष्टिकोण वैज्ञानिक एवं विश्वव्यापी बनाने के उद्देश्य से विभिन्न शैक्षिक गतिविधियों एवं शैक्षिक यात्राओं में प्रतिभाग के लिए प्रोत्साहित करता है। सी.एम.एस. के इन्हीं प्रयासों के फलस्वरूप विद्यालय के छात्र विभिन्न रचनात्मक एवं सृजनात्मक प्रतियोगिताओं में अपनी बहुमुखी प्रतिभा की छाप छोड़कर विद्यालय का गौरव बढ़ा रहे हैं।