कर्नाटक में गिर गयी कुमारस्वामी की सरकार मुख्यमंत्री का अंतिम भावुक भाषण

- in BREAKING NEWS, राजनीति

बेंगलुरु : कई दिनों से जारी राजनीतिक उठापटक के बाद कर्नाटक में आखिरकार मंगलवार शाम को विधानसभा में विश्वास मत प्रस्ताव पर वोटिंग हुई और कुमारस्वामी की सरकार गिर गई। मारस्वामी ने विधानसभा में भावुक भाषण देते हुए कहा कि वह विश्वास मत प्रस्ताव के लिए तैयार हैं और खुशी से सीएम का पद छोड़ देंगे। सीएम कुमारस्वामी ने कहा कि मैं राजनीति में नहीं आना चाहता था, लेकिन किस्मत मुझे यहां ले आई। उन्होंने कहा, ‘मैं बेहद संवेदनशील और भावुक व्यक्ति हूं। मैंने जब अपने खिलाफ रिपोर्ट्स देखीं तो सोचा कि क्या मुझे इस सब के बाद भी सीएम पद पर बने रहना चाहिए। मैं बेहद आहत हूं और पद त्यागने के लिए तैयार हूं।’ कुमारस्वामी ने विश्वास मत की कार्यवाही के लंबा खिंचने पर भी माफी मांगी है। कुमारस्वामी ने कहा, ‘विश्वास मत की कार्यवाही को लंबा खींचने की मेरी कोई मंशा नहीं थी।

मैं विधानसभाध्यक्ष और राज्य की जनता से माफी मांगता हूं।’ इस बीच जेडीएस नेता टीआरएस प्रसाद गौड़ा ने दावा किया है कि कुमारस्वामी आज इस्तीफा दे देंगे। इस दौरान कुमारस्वामी ने ताज वेस्ट एंड होटल के कमरे में रहने को लेकर भी दिलचस्प खुलासा किया है। उन्होंने कहा, मैं वहां कोई बिजनस नहीं करता। पिछले साल जब चुनाव के नतीजे आए और कांग्रेस ने मुझे सीएम बनने के लिए कहा तो मैं उसी कमरे में था। इसके बाद मैंने इस कमरे को बनाए रखा क्योंकि वह लकी था। उनसे पहले सीनियर कांग्रेस लीडर एम. सिद्धारमैया ने बीजेपी पर बरसते हुए कहा कि विधायकों की होलसेल ट्रेडिंग एक समस्या है। यदि एक या दो विधायकों को तोड़ने का रिटेल ट्रेड होता तो कोई परेशानी नहीं होती। हमें छोड़कर जाने वाले विधायक होलसेल ट्रेडिंग का हिस्सा हैं। उन्होंने कहा, ’25, 30 और 50 करोड़ यह रकम कहां से आ रही है? बागी विधायकों को अयोग्य घोषित होना चाहिए।