कांग्रेस पार्टी के अल्पसंख्यक अधिवेशन में राहुल का ऐलान, सत्ता में लौटे तो खत्म करेंगे तीन तलाक कानून

- in राजनीति

नई दिल्ली : कांग्रेस ने बड़ा ऐलान करते हुए सत्ता में आने पर तीन तलाक कानून खत्म करने का ऐलान किया है। दिल्ली में पार्टी के अल्पसंख्यक अधिवेशन के दौरान पार्टी अध्यक्ष राहुल गांधी की मौजूदगी में सिलचर से सांसद और ऑल इंडिया महिला कांग्रेस की अध्यक्ष सुष्मिता देब की ओर से यह ऐलान किया गया। अल्पसंख्यकों के बीच पार्टी का आधार मजबूत करने के मकसद से गुरुवार को राष्ट्रीय अधिवेशन का आयोजन किया था। अधिवेशन में बतौर मुख्य अतिथि आए राहुल ने इस दौरान मोदी सरकार पर तीखे वार किए। कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा कि पीएम मोदी का चेहरा ध्यान से देखें तो आपको घबराहट दिखेगी। राहुल ने कहा कि मोदी जी समझ चुके हैं कि देश के लोगों को तोड़कर पीएम नहीं बना जा सकता है। बीजेपी वाले कहते थे कि मोदी 15 साल तक पीएम रहेंगे, लेकिन कांग्रेस ने उनके इस दावे की धज्जियां उड़ा दी हैं। पहले बीजेपी के लोग कहते थे, ‘अच्छे दिन आएंगे’, लेकिन अब देश के लोग कहते हैं, ‘चौकीदार चोर है’। कांग्रेस अध्यक्ष ने कहा कि ये देश किसी एक धर्म का नहीं है। यह देश हिंदुस्तान के हर व्यक्ति का है। लड़ाई दो विचारधाराओं के बीच की है। देश अल्पसंख्यकों ने भी देश को बनाने का काम किया है। एक विचारधारा कहती है कि देश सोने की चिड़िया है, जिसका मतलब है कि देश एक प्रॉडक्ट है। हमारी विचारधारा कहती है कि देश एक नदी है, जिसमें सभी को जगह मिलनी चाहिए। राहुल गांधी ने आरएसएस पर निशाना साधते हुए कहा कि आरएसएस के लोग चाहते हैं कि सरकार नागपुर से चले। नरेंद्र मोदी देश को आगे से चलाएंगे और मोहन भागवत देश को पीछे से चलाना चाहते हैं। राहुल ने कहा, ‘हमारा संविधान कांग्रेस पार्टी का नहीं, बल्कि देश का है। उसकी रक्षा करना सभी पार्टियों की है।’ उन्होंने कहा कि आने वाले 3 महीने में देश इन्हें (बीजेपी) बताने जा रहा है कि देश ऊपर है और ये नीचे हैं। आज लोकसभा में गडकरी ने अच्छा भाषण दिया। लोग कह रहे हैं कि गडकरी जी अकेले ऐसे मंत्री हैं, जो सबका काम करते हैं। इस मतलब है कि इस सरकार में मंत्री भी अपनी मर्जी से काम नहीं कर पा रहे हैं। राहुल ने कहा कि पांच साल पहले नरेंद्र मोदी की रेप्युटेशन बहुत अच्छी थी। लेकिन अपनी सरकार में भ्रष्टाचार की वजह से प्रधानमंत्री आज बोल भी नहीं पाते हैं। उन्होंने कहा कि हमने देश को रास्ता दिखाया है।