खलनायक अमज़द खान को हुआ था 14 साल की लड़की से प्यार, जल्दी बड़ी हो जाने के लिए कही थी ये बड़ी बात

- in मनोरंजन

मनोरंजन: 90 के दशक में बॉलीवुड पर्दे पर आई सुपरहिट फिल्म शोले में गब्बर का किरदार निभाने वाले अभिनेता अमजद खान की बात करें तो अमजद खान को आप सभी लोग अच्छी तरह जानते होंगे। गब्बर सिंह का किरदार निभाकर लोगों के बीच अपनी एक अलग पहचान कायम करने वाले अभिनेता अमजद खान का जन्म 21 अक्टूबर 1945 को हुआ था। 21 अक्टूबर 1945 को जन्मे इस अभिनेता ने अब तक बॉलीवुड पर्दे पर आई कई सारी फिल्मों में अपने अभिनय का प्रदर्शन किया। आज हम आपको इस अभिनेता की लव स्टोरी के किस्से बताने वाले हैं। जिसका जिक्र उनकी पत्नी की शेहला खान ने एक इंटरव्यू के दौरान किया था।

बात उन दिनों की है जब शेहला और अमजद खान कॉलेज में पढ़ाई किया करते थे। स्कूल के दिनों में साथ-साथ पढ़ने की वजह से उन दोनों के बीच काफी अच्छी पहचान बन गई थी। दोनों का परिवार एक दूसरे के परिवार के सदस्यों से भली भांति परिचित था। वर्ष 1972 में अमजद खान ने पहली बार शेहला को प्रपोज किया और इसके कुछ दिनों बाद ही दोनों ने लव मैरिज भी कर ली।

शेहला की माने तो अमजद खान के साथ उनकी पहली मुलाकात उस वक्त हुई थी जब उनकी उम्र महज 14 साल थी। 14 साल की उम्र में जब सहेला एक दिन बैडमिंटन खेल रही थी और उनका शटल कॉक नीचे गिर गया तो उन्होंने अमजद खान से कहा था कि अमजद भाई प्लीज सटल पास कर दीजिए। जिसके बाद उनके द्वारा बोले गए भाई शब्द को सुनकर अमजद खान काफी ज्यादा गुस्सा हो गए थे। इसके साथ ही साथ उन्होंने यह चेतावनी भी दे डाली कि आगे से वह उन्हें भाई बोलने की हिम्मत ना करें जिसके बाद शेहला काफी ज्यादा सहम गई थी।

इस घटना के 5 महीने बीतने के बाद शेहला और अमजद की एक बार फिर से मुलाकात हुई। दूसरी मुलाकात के दौरान शेहला अपने डॉग को घुमाने के लिए बाहर निकली थी वहीं अमजद खान अपने दोस्तों के साथ कैरम खेल रहे थे। अमजद खान की नजर जब शेहला के ऊपर पड़ी तो उन्होंने उनसे उनके नाम का मतलब पूछ डाला। परंतु शेहला को अपने नाम का महत्व नहीं पता था जिसकी वजह से उन्होंने उनके नाम का मतलब भी बता दिया।

दूसरी मुलाकात के वक्त अमजद खान ने शेहला से यह सवाल भी पूछ डाला कि आखिर उनकी उम्र क्या है। जिसके जवाब में शेहला ने अपनी उम्र 14 साल बताई। उनकी उम्र को सुनने के बाद अमजद खान ने उनसे कहा कि जल्दी जल्दी बड़ी हो जाओ क्योंकि वह उनसे शादी करना चाहते हैं। अमजद खान के द्वारा कही गई इन बातों को सुनने के बाद महिला हैरान रह गई थी। अमजद खान ने तो उस वक्त यह बात भी कह डाला कि वह अपनी मां को उनके घर रिश्ते लेकर भेजेंगे।

अमजद खान के द्वारा रिश्ते की बात कही जाने के कुछ दिनों बाद ही उनकी मां मेरे घर मेरा हाथ मांगने आ गई। जिसके बाद मेरे पिता ने उन्हें साफ मना कर दिया। इसके साथ ही साथ पिताजी ने मुझे अलीगढ़ भेज दिया ताकि हम दोनों एक दूसरे से दूर रहे। परंतु अलीगढ़ जाने के 2 हफ्ते बाद ही मैं मुंबई वापस लौट आई। मुंबई लौटने के बाद काफी लंबे वक्त तक हम दोनों छुपते छुपाते मिला करते थे। तभी मेरी जिंदगी में एक ऐसा वक्त आया जब माता पिता हमारी शादी को लेकर राजी हो गए। शादी को लेकर राजी हो जाने के बाद हम दोनों की शादी वर्ष 1972 में हो गई और इसके 1 साल बाद ही बड़े बेटे शादाब का जन्म हुआ।