खुलासा: बच्चों के ये नाम रखने से हो चुकी हैं कई मौतें

- in अजब-गजब

व्यक्ति का नाम ही उसकी पहचान होता हैं. इस दुनिया में अरबों-खरबों लोग रहते हैं. ऐसे में व्यक्तियों के नाम रखने से उनसे बातचीत करने में आसानी होती हैं. जब भी कोई महिला माँ बनने वाली होती है तो वो पहले ही अपने होने वाले बच्चे का नाम सोचने लगती है. अपने होने वाले बच्चे को एक अच्छा और सबसे अलग नाम देने के लिए बहुत से माता-पिता इंटरनेट पर बहुत रिसर्च भी करते हैं, लेकिन बहुत से माता-पिता बिना सोचे समझे अपने बच्चे का कुछ भी नाम रख देते हैं.

खुलासा: बच्चों के ये नाम रखने से अब तक हो चुकी हैं कई मौतें आज जब नामों की बात चली है तो आज हम आपको ऐसे 4 नाम बताने जा रहे हैं, जिनके ऊपर आपको कभी भी अपने बच्चों के नाम नहीं रखने चाहिए. ये 4 नाम बहुत ज्यादा अशुभ होते हैं. यहां तक कि इन नामों को रखने की वजह से कई बच्चों या उनके नजदीकियों की मौत भी हो जाती है. ऐसे में आपको गलती से भी अपने बच्चों के ये नाम नाम नहीं रखने चाहिए. फिर चाहे ये नाम आपके बच्चे की जन्म राशि के अक्षर से ही क्यों ना स्टार्ट होते हो.

गांधारी

वैसे तो गांधारी को बहुत ज्यादा महान और गुनी महिला के रूप में देखा जाता है, लेकिन जब गांधारी की शादी कौरव वंश में हस्तिनापुर के महाराज धृतराष्ट्र से हुई तो उन्होंने 100 पुत्रों को जन्म दिया. दुर्योधन गांधारी का सबसे बड़ा बेटा था. गांधारी के जीवित होने के बावजूद एक युद्ध में उसके सभी बेटों की मौत हो गयी थी. इसलिए गांधारी के नाम को शुभ नहीं माना जाता.

अश्वत्थामा

ये बात तो सभी को अच्छी तरह से पता है कि अश्वत्थामा एक वीर योद्धा था, लेकिन उसके द्वारा किये गए बुरे कामों की वजह से उसको श्री कृष्णा के श्राप को भोगना पड़ा था. बस यही कारण है कि कोई भी व्यक्ति अपने बच्चे का नाम अश्वत्थामा नहीं रखना चाहता.

मंदोदरी

मंदोदरी नाम का अर्थ एक ऐसी महिला से है जो बहुत ज्यादा दयालु और अच्छे गुणों वाली हैं, लेकिन फिर भी कोई अपने बच्चे का नाम मंदोदरी नहीं रखना चाहता. इसके पीछे की मुख्य वजह ये थी कि मंदोदरी रावण की पत्नी थी. मंदोदरी के जिंदा होते हुए भी उसके पति की मौत हो गयी थी. इसी वजह से किसी भी माता-पिता को अपनी बेटी का नाम मंदोदरी नहीं रखना चाहिए.

विभीषण

विभीषण नाम का मतलब होता है एक ऐसा व्यक्ति जिसको कभी भी गुस्सा नहीं आता. ये नाम तो अच्छा है, लेकिन ये बात आपको भी पता ही होगी कि विभीषण घर का भेदी था. विभीषण को ही उसके भाई रावण की मौत की वजह बताया जाता है.