गुरुवार को करें पारद गणेश की स्थापना

लखनऊ : हिन्दी पंचांग के अनुसार हर महीने शुक्ल पक्ष की चतुर्थी तिथि को विनायकी चतुर्थी का व्रत किया जाता है। इस दिन मुख्य रूप से भगवान श्रीगणेश की पूजा की जाती है। इस बार ये व्रत गुरुवार यानी आज है। उज्जैन के ज्योतिषाचार्य पं. प्रफुल्ल भट्ट के अनुसार, इस दिन यदि घर में पारद गणेश की स्थापना कर रोज उनकी पूजा की जाए तो सभी समस्याओं का समाधान हो सकता है। जहां भी पारद गणेश का पूजन होता है वहां हमेशा सुख-शांति और समृद्धि बनी रहती है।विशेष तौर पर धन की कोई कमी नहीं आती। ग्रंथों में पारद को रसराज भी कहा गया है। जिस घर में पारद गणेश की पूजा होती है, वहां किसी भी तरह की कोई नेगेटिव एनर्जी नहीं रहती। पारद गणेश की पूजा से सभी प्रकार के दोषों जैसे- पितृ दोष, ग्रह दोष आदि से भी राहत मिलती है। जिस घर में वास्तु दोष हो, वहां ईशान कोण में पारद गणेश की स्थापना कर रोज पूजा करने से उस दोष की शांति होती है।
पारद गणेश की स्थापना से आने वाले संकटों से छुटकारा मिलता है। पारद गणेश की पूजा से रिद्धि-सिद्धि यानी धन व बुद्धि दोनों की प्राप्ति होती है। चतुर्थी पर पारद गणपति की प्रतिमा अपनी दुकान या गोदाम में स्थापित करने से धन में हमेशा वृद्धि होती रहती है। विद्यार्थी अगर रोज पारद गणपति की पूजा करें को उनको निश्चित ही फायदा होता है।