घर में पॉजिटिव एनर्जी बनाए रखने के लिए ऐसा होना चाहिए आपके घर के पर्दों का रंग…

घर की सजावट और इंटीरियर में दीवारों के रंग और पर्दों की अहम भूमिका है। अलग-अलग रंग के पर्दे घर को खूबसूरत तो बनाते ही हैं, घर में पॉजिटिव एनर्जी बनाए रखने में भी मदद करते हैं। उसी तरह घर के हर कमरे का उद्देश्य अलग-अलग होता है इसलिए घर के सभी कमरों में एक ही रंग की पुताई नहीं करवानी चाहिए। और जानें, किस दिशा में लगाने चाहिए किस रंग के पर्दे और किस कमरे के लिए उपयुक्त है कौन सा रंग…

# सदैव धन अौर सुख-समृद्धि के लिए वास्तु की इन बातों का रखें ध्यान

⇨ पूर्वी और उत्तरी दिशा में स्थित खिड़कियों को पर्दों से हमेशा ही ढके हुए ना रखें। सुबह सूर्योदय के पश्चात् इन खिड़कियों को खुला रखें और पर्दा नहीं लगाएं।

⇨ पश्चिम और दक्षिण दिशागत खिड़कियों पर मोटा पर्दा लगाएं। उपरोक्त दोनों दिशागत खिड़कियों पर अधिकतर समय पर्दा लगा हुआ रहे।

⇨ झालरयुक्त पर्दा अतिथि कक्ष में लगाएं। पूजाघर में जाली का पर्दा अथवा साधारण पर्दों को उपयोग में लाना चाहिए।

⇨ कौन से कमरे में किस रंग का पर्दा :-
अतिथि कक्ष- हल्का हरा, नीला, पीला
शयन कक्ष- हल्का गुलाबी, गहरा नीला, सलेटी
भोजन कक्ष- हल्का हरा, हल्का नीला, पीला, केसरिया
रसोई घर- पीला, नारंगी, चॉकलेटी
पूजाघर- हल्का पीला, सफेद