चीन की सेना भी कर रही है युद्धाभ्यास

चीन के लड़ाकू हेलीकाप्टरों ने देश के दक्षिणपूर्वी तट पर मिसाइलें चलाकर युद्धाभ्यास किया. सरकारी मीडिया ने यह जानकारी तो दी लेकिन इस बात की पुष्टि नहीं की कि यह अभ्यास संवेदनशील ताइवान जलडमरू मध्य क्षेत्र में किया गया या नहीं. सरकारी शिन्हुआ समाचार एजेंसी ने खबर दी कि पीपुल्स लिबरेशन आर्मी ने बुधवार को युद्धाभ्यास किया और इसमें विभिन्न प्रकार के हेलीकाप्टरों ने भाग लिया. हेलीकाप्टरों ने समुद्र में वायु सेना की सदाबहार संचालन क्षमताओं को जांचा. चीन की सेना भी कर रही है युद्धाभ्यास

सरकारी प्रसारक सीसीटीवी ने हेलीकाप्टरों द्वारा पानी के भीतर दूर की वस्तुओं पर मिसाइलें दागने की तस्वीरें दिखाईं. खबरों में यह नहीं बताया गया कि युद्धाभ्यास का वास्तविक स्थान क्या था लेकिन ये उसी दिन हुआ जब चीन ने ताइवान जलडमरू मध्य में युद्धाभ्यास किया. इस बीच , एपी की खबर के अनुसार , ताइवान की सरकार ने कहा है कि चीन के हालिया युद्धाभ्यास का उद्देश्य द्वीप समूह को धमकाना है और यह क्षेत्रीय शांति एवं स्थिरता के लिए खतरा है.