छठ पूजा के दौरान डूबने से 25 लोगों की मौत, हुआ मुआवजे का ऐलान

छठ पूजा में बिहार के अलग-अलग हिस्सों में कुल 25 लोगों की मौत हो गई है। मृतकों में 4 लड़कियां भी शामिल है। गौरतलब है कि गुरुवार और शुक्रवार को प्रदेश भर में छठ का महापर्व बड़े ही धूम-धाम से मनाया गया। सरकार की विस्तृत व्यवस्था के बाद भी प्रदेश भर में 25 लोगों की डूबने से मौत हो गई। 
छठ पूजा के दौरान डूबने से 25 लोगों की मौत, हुआ मुआवजे का ऐलानटाइम्स ऑफ इंडिया की रिपोर्ट के मुताबिक राज्य आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से जारी आकड़ों में बीते दो दिनों में 16 लोगों की मौत की पुष्टि की गई है। मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने शुक्रवार को मृतक 16 लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये मुआवजा देने की घोषणा की है। 

एसडीआरएफ टीम ने शुक्रवार तक 7 शव बाहर निकाल लिए थे। जिसमें से तीन खगड़िया, दो भागलपुर और एक-एक मधुबनी और सीतामढ़ी के हैं। एसडीआरएफ ने कहा कि मृतकों में 6 लड़के हैं, जिनकी उम्र 10-15 साल है, जबकि एक युवक है जिसकी उम्र 40 साल है। 

वहीं मधुबनी के झंझारपुर इलाके के लोगों ने एसडीआरएफ पर नजरअंदाज करने का आरोप लगाया है। लोगों का आरोप है कि एसडीआरएफ की मोटरबोट में ईंधन नहीं था, जिससे डूबते लोगों को बचाया जा सके। हालांकि एसडीआरएफ के अधिकारियों ने आरोप को गलत बताया है।