छात्रों से ओबामा बोले- मां-पिता को फोन करें, अकेले में रोते हैं आपके बिना

अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति बराक ओबामा ने शनिवार को यूनिवर्सिटी ऑफ इलिनोइस में छात्रों को संबोधित किया। इस दौरान वो काफी भावुक हो गए और छात्रों से कहा कि वो आज ही अपने माता-पिता को फोन करें, क्योंकि वो आपके बिना, आपसे दूर रहकर अकेले में बहुत रोते हैं।

छात्रों को संबोधित करते हुए उन्होंने कहा ‘मैं आप सबसे कुछ गंभीर बात कहना चाहता हूं। आप में से ज्यादातर छात्र यहां घर से दूर रहकर पढ़ाई कर रहे हैं। शायद नौकरी के लिए भी घर से दूर ही रहना पड़े। आपके माता-पिता घर पर अकेले हैं। आपके करियर, आपकी खुशी के लिए उन्होंने आपको घर से दूर तो भेज दिया, लेकिन यकीन मानिए वो रोज घर के एक कोने में बैठकर आपको याद करते हैं। कभी-कभी तो अकेले में रो भी देते होंगे। मैं आप सबको बताना चाहता हूं कि आपके माता-पिता आपको बहुत याद करते हैं। मेरी भी बेटी बाहर रहकर पढ़ रही है, इसलिए मैं दावे के साथ ये बात कह सकता हूं।’

इस दौरान उन्होंने छात्रों से मजाकिया अंदाज में कहा कि मुझे पहले भी यूनिवर्सिटी में आने का न्योता भेजा गया था, लेकिन उस वक्त मैं नहीं आ पाया। दरअसल, मैं 8 साल व्हाइट हाउस को देने के बाद अब शादी बचाने के लिए अपनी बीवी को वक्त दे रहा हूं, इसलिए मैं नहीं आ सका।

यहां उन्होंने अमेरिका की राजनीति और राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप को लेकर भी बात की। बता दें कि ओबामा करीब एक साल के बाद शनिवार को किसी सार्वजनिक मंच पर नजर आए।

इससे पहले उन्होंने कैलिफोर्निया में मतदाताओं से डर की राजनीति के खिलाफ संगठित होने और कांग्रेस का नियंत्रण फिर से डेमोक्रेट को सौंपने की अपील की। ओबामा ने आरोप लगाया कि ‘डर की राजनीति’ देश के लिए विभाजनकारी है।

उन्होंने रिपबल्किन का मजबूत गढ़ माने जाने वाले कैलिफोर्निया के ऑरेंज काउंटी के अनाहेम में उत्साहित और बड़ी संख्या में मौजूद लोगों से कहा कि राष्ट्र ‘चुनौतीपूर्ण क्षणों से गुजर’ रहा है। बता दें कि किसी पूर्व राष्ट्रपति द्वारा लोकप्रियता से बचने के चलन के उलट ओबामा आगामी मध्यावधि चुनावों में डेमोक्रेट्स की दावेदारी मजबूत करने के मद्देनजर शुक्रवार को इलिनोईस में प्रचार अभियान में उतरते नजर आए।
शनिवार को अनाहेम में उन्होंने कहा कि मतदाताओं को नवंबर में एक स्पष्ट संकेत देने की जरूरत है कि वे ‘आक्रमकता एवं विभाजन के चक्र को पलटना’ चाहते हैं और ‘अपनी राजनीति में थोड़ी समझदारी को पुन: बहाल’ करना चाहते हैं। हालांकि ओबामा ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का नाम लेकर उनकी ओर इशारा नहीं किया, लेकिन उनकी मंशा साफ थी।

सभी बॉलीवुड तथा हॉलीवुड मूवीज को सबसे पहले फुल HD Quality में देखने के लिए यहाँ क्लिक करें