जनलोकपाल बिल की फाइल गायब, विधानसभा नहीं आते सीएम केजरीवाल!

दिल्ली : विधानसभा के विशेष सत्र के दूसरे दिन जनलोकपाल मुद्दे पर जहां विपक्ष ने आम आदमी पार्टी सरकार पर जमकर हमला बोला, वहीं सत्ता पक्ष ने भी जवाब देने में देरी नहीं की। इस बीच दिल्ली में जगह-जगह जनलोकपाल को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल की फोटो के साथ पोस्टर लगाए गए हैं। इस पोस्टर में आप सरकार पर कटाक्ष करते हुए पूछा गया है- ‘केजरीवाल जी का जनलोकपाल बिल कहीं खो गया है…मिले तो क्रांतिकारी सीएम को पहुंचा दें…।’ जनलोकपाल के मुद्दे पर अकाली दल विधायक मनजिंदर सिंह सिरसा ने अरविंद केजरीवाल का पोस्टर जारी करके दिल्ली सरकार पर निशाना साधा है। पोस्टर में जनलोकपाल बिल की फाइल के मिसिंग होने को मुद्दा बनाया गया है। पोस्टर के सबसे ऊपर लिखा गया है- ‘गुमशुदा की तलाश’ पोस्टर में कटाक्ष करने के अंदाज में यह भी लिखा गया है- ‘जनलोकपाल मिले तो विधानसभा के पते पर मत पहुंचाइगा…सीएम साहब विधानसभा नहीं आते हैं।’ अकाली विधायक ने सवालिया लहजे में कहा कि अरविंद केजरीवाल के नेतृत्व में चल रही आम आदमी पार्टी सरकार लगातार झूठ बोल रही है। उन्होंने कहा कि जिस मुद्दे पर अरविंद केजरीवाल सरकार चुनकर आई है अब उसी जनलोकपाल बिल को केजरीवाल सरकार ने गुम कर दिया है, इसलिए यह पोस्टर जारी किया गया है। वहीँ विजेंद्र गुप्ता ने आरोप लगाया कि पिछले 9 महीनों से जनलोकपाल बिल की फाइल कैलाश गहलोत के दफ्तर में धूल चाट रही है। विपक्ष ने सवाल उठाया तो सरकार की प्रतिक्रिया तो लाजमी ही ही थी। एडमिनिस्ट्रेटिव रिफॉर्म्स के मिनिस्टर कैलाश गहलोत के मुताबिक उनके पास फाइल है ही नहीं। कैलाश गहलोत ने दावा किया है विपक्ष सबूत दिखाए कि फाइल केजरीवाल सरकार के पास ही है। उधर, मनीष सिसोदिया ने जनलोकपाल बिल की फाइल पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा की फाइल कहां है यह महत्वपूर्ण नहीं है अगर दिल्ली पूर्ण राज्य होता तो फाइल कहीं भेजने की जरूरत ही नहीं पड़ती। सिसोदिया का बयान देख कर कर लगता है कि उन्होंने मुद्दे को ही बदलने की कोशिश की है।