जम्मू-कश्मीर में दर्दनाक हादसा, श्रद्धालुओं से भरी कार 800 मीटर नीचे नदी में जा गिरी

जम्मू-कश्मीर : माता के दर्शन करने के लिए जा रहे श्रद्धालुओं से भरी कार चिनाब नदी में गिर गई। हादसे में अब तक 11 लोगों की मौत की खबर है। मरने वालों की संख्या में इजाफा हो सकता है। अभी रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है। घटना जम्मू-कश्मीर के किश्तवाड़ में हुआ है। बताया जा रहा है, कि एक ईको स्पोर्ट कार में सवार होकर श्रद्धालु मचेल माता के दर्शन करने के लिए जा रहे थे। कार बेकाबू होकर 800 मीटर नीचे नदी में जा गिरी। अब तक 11 श्रद्धालुओं के शव बरामद कर लिए गए हैं। एक बच्चे को सुरक्षित बचाया गया है। फिलहाल रेस्क्यू ऑपरेशन जारी है।

वहीं बताया जा रहा है, कि जम्मू के डोडा जिले के एक ही परिवार के सात लोगों की इस हादसे में मौत हुई है। बाकी की पहचान की कोशिश की जा रही है। इससे पहले सोमवार को भी उधमपुर से पाडर जा रही एक मेटाडोर और कार पर सोमवार को पस्सी गिर जाने से हादसे में छह लोगों की मौत हो गई, जबकि 15 लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। इन दोनों वाहनों में स्थानीय निवासी व मचैल यात्री थे। दोनों वाहन जब द्राबशाला के पास कुलगडि पर पहुंचे तो ऊंची पहाड़ी से अचानक पत्थर “पस्सी” गिरने शुरू हो गए। यह पस्सी दोनों वाहनों के ऊपर गिरी जिसमें काफी यात्री दब गए। हादसे की सूचना पुलिस को दी गई, और एसएसपी राजेंद्र कुमार गुप्ता, थाना प्रभारी समीर जिलानी, रेडक्रास सोसाइटी के सदस्य व सेवा भारती के अलावा संस्था अबाबील के सदस्य मौके पर पहुंचकर बचाव कार्य में लग गए। हादसे में छह लोगों की मौके पर ही मौत हो गई। पुलिस व अन्य लोगों की मदद से हादसे में छह घायलों को किश्तवाड़ और आठ लोगों को ठाठरी अस्पताल पहुंचाया गया। बाद में ठाठरी पहुंचाए गए घायलों को डोडा रेफर कर दिया गया। किश्तवाड़ से भी दो लोगों को हेलीकाप्टर सेवा से रेफर किया जाएगा।