जानिए क्यों लड़को के लिए बहुत मायने रखता है लड़की का वर्जिन होना

- in जीवनशैली

हमेशा से एक लड़का अपनी शादी वर्जिन लड़की से करना चाहता है, आख़िरकार क्या है ये वर्जिनिटी? हमारे समाज में शादी से पहले लड़कियों के वर्जिन होने के लिए कुछ टेस्ट (Virginity test) किये जाते थे।

जानिए क्यों लड़को के लिए बहुत मायने रखता है लड़की का वर्जिन होना अगर लड़की उस टेस्ट में फेल हो जाती थी तो उसकी शादी नहीं होती थी। यह वर्जिनिटी का टेस्ट हमेशा से सिर्फ महिलाओं के लिए ही किया जाता था। पुरुष की वर्जिनिटी को जानने की कभी कोशिश ही नहीं की जाती है और उसके लिए कोई तरीका भी इजाद नहीं किया गया है। वर्जिनिटी को लेकर बहुत सारे भ्रम हमारे समाज में फैलें हैं. आइये जानते हैं वो कौन- कौन से भ्रम हैं और सच्चाई क्या है?
वर्जिन लड़की के साथ यौन सम्बन्ध बनाने पर खून निकलता है या नही.

आइये जानते हैं वो कौन- कौन से भ्रम हैं –
1- वर्जिन लड़की के साथ यौन सम्बन्ध बनाने पर खून निकलता है (Virginity test)
वर्जिन लड़की के साथ यौन सम्बन्ध बनाने पर खून निकलता है। यह एक बहुत ही दकियानूसी धारणा है कि वर्जिन लड़की से सम्बन्ध बनाने पर खून निकलेगा ही, जबकि शोध ये दर्शाते हैं कि 90 प्रतिशत लड़कियों को पहली बार यौन सम्बन्ध बनाते समय खून नहीं निकलता है। अगर आपने यौन सम्बन्ध बनाने से पहले अच्छे से फोरप्ले किया है और दोनों लोग आपस में प्रेम से सम्बन्ध बना रहें हों तो खून निकलना जरुरी नहीं है। जबकि आप किसी भी औरत के साथ जबरदस्ती यौन सम्बन्ध बनाने की कोशिश करेंगे तो खून निकाल सकता है।

2.पहली बार सेक्स करने से ही लड़की का हाईमन टूटता है (Virginity test)
पहली बार सेक्स करने से ही लड़की का हाईमन टूटता है, यह बहुत ही गलत धारणा है कि पहली बार सेक्स करने से ही लड़की का हाईमन टूटता है। लड़की का हाईमन किसी और कारण से भी टूट सकता है जैसे, साईकिल चलने से, दौड़ने से, व्यायाम करने से या योग करने से। इनमे से किसी भी वहज से लड़की का हाईमन टूट सकता है। कई बार हाईमन सम्बन्ध बनाने के बाद भी नहीं टूट पाता है। यह भी जरुरी नहीं है कि हर वर्जिन लड़की को हाईमन हो ही, कई बार किसी- किसी लड़की में जन्म से ही हाईमन नहीं होता है। इसके आधार पर किसी भी लड़की को वर्जिन कहना या ना कहना सही नहीं है।

शरीर का आकर देखकर पता करे लड़की वर्जिन है या नहीं

कुछ ज्ञानी लोग लड़कियों के शरीर के आकर को देख के भी यह बता देते हैं कि लड़की वर्जिन है या नहीं। मुझे तो आज तक समझ में नहीं आया कि अगर ऐसे ज्ञानी लोग नहीं रहते तो कैसे पता चलता लोगों को कि कौन सि लड़की वर्जिन है और कौन सि लड़की नहीं है। जिन लड़कियों के पेट का निचला हिस्सा निकला रहता है उन्होंने सेक्स किया होता है, उनके कुल्हे बड़े हो जाते है और उनके स्तन ढीले हो जाते हैं। यह सब बकवास बातें हैं ऐसे ज्ञानियों से दूर रहे आप ऐसा कुछ भी नहीं होता है। यह लड़की के लाइफस्टाइल पर निर्भर करता है।

4- 2 फिंगर टेस्ट के द्वारा वर्जिनिटी का पता लगाया जा सकता है
2 फिंगर टेस्ट के द्वारा वर्जिनिटी का पता लगाया जा सकता है। यह भी एक मिथक है। दुनियाँ का कोई भी डॉक्टर यह नहीं पता लगा सकता है कि लड़की वर्जिन है जब तक कि लड़की खुद से ये ना बताये कि वह वर्जिन है या नहीं।

5- लड़की यौन सम्बन्ध स्थापित कर चुकी होती है उसके चले का तरीका बदल जाता है
यह भी समाज में एक मिथक बना हुआ है कि जो लड़की यौन सम्बन्ध स्थापित कर चुकी होती है उसके चले का तरीका बदल जाता है। उसके पैरों के बीच ज्यादा अंतर हो जाता है। यह भी पूरी तरह से बकवास है।