झोलाझाप डॉक्टरों ने जिंदा इंसान को किया मृत घोषित

- in फीचर्ड, लखनऊ

लखनऊः कुछ डॉक्टरों ने चंद रूपए कमाने के लिए एक जीवित इंसान को मृत बता दिया।जानकारी के मुताबिक मामला हसनगंज में स्थित जेनिथ अस्पताल का है। पीड़ित के परिजनों की मानें तो वह अस्पताल में आज से 3 दिन पहले एक महिला को लंग इन्फेक्शन की वजह से लेकर आए। यहां डॉक्टरों ने उसे भर्ती कर लिया। जिसके बाद यहां के डॉक्टरों ने उसे वेंटिलेटर पर डाल दिया और काफी लंबा-चौड़ा बिल बना दिया। 3 दिन बाद आज अचानक डॉक्टरों के द्वारा परिवारजनों को फोन किया गया कि आपके पेशेंट की मौत हो चुकी है। बॉडी लेने पहुंचे। वहीं इस सूचना के बाद जब तीमारदार अस्पताल पहुंचे तो वह वहां की स्थिति को देखकर अवाक रह गए। दरअसल महिला होश में थी, जिसके बाद परिवारजनों ने आनन-फानन में अपने मरीज को ट्रामा सेंटर में एडमिट कराया, जहां बिना वेंटिलेटर के महिला स्वास्थ्य लाभ ले रही है। सबसे बड़ी बात यह है कि तमाम झोलाछाप डॉक्टर आए दिन किसी न किसी की जान लेने पर आमादा है। क्योंकि इनका काम सिर्फ पैसे बनाना है ना कि किसी की जान बचाना। वहीं इस घटना से पूरे परिवार में ऐसे डॉक्टरों के खिलाफ आक्रोश है और वह आरोपी डॉक्टरों पर कार्रवाई की मांग कर रहे हैं।