टेलीकाॅम सेक्टर करेगा छंटनी, 60 हजार कर्मियों का छिन सकता है रोजगार

- in BREAKING NEWS, राष्ट्रीय

नई दिल्ली : टेलीकॉम सेक्टर में बड़े स्तर पर छंटनी होने की पूरी संभावना बन रही है। ये छंटनी इस वित्त वर्ष के अंत तक हो सकती है। मीडिया रिपोट्र्स के अनुसार सबसे ज्यादा छंटनी कस्टमर सपॉर्ट और फाइनेंशियल वर्टिकल्स में होगी। इन दोनों सेक्शनों में क्रमश: सात से आठ हज़ार नौकरियां जा सकती है। कंसॉलिडेशन के चलते 2019 में टेलिकॉम सर्विस और इंफ्रास्ट्रक्चर प्रोवाइडर्स में 60-75 हजार नौकरियां कम हो सकती हैं। हालांकि ऐसा नहीं है कि ये सिलसिला अभी शुरू होना है बल्कि सितंबर तक को तो टेलीकॉम इंडस्ट्री में करीब 20 हजार नौकरियां कम भी गई हैं। हालांकि इस खबर को लेकर भारती एयरटेल, रिलायंस जियो और वोडाफोन आइडिया की तरफ से कोई आधिकारिक बयान नहीं आया है। सेल्युलर ऑपरेटर्स असोसिएशन ऑफ इंडिया (सीओएआई) के डायरेक्टर जनरल राजन मैथ्यूज ने बताया, हमारा बुरा वक्त गुजर चुका है। अब कंपनियां आर्टिफिशल इंटेलिजेंस, बिग डेटा, 4जी नेटवर्क एक्सपैंशन में हायरिंग बढ़ा रही हैं। आने वाली दो तिमाहियों में इंडस्ट्री से अधिक से अधिक 5 हजार लोगों की नौकरी जा सकती है। यह लगातार दूसरा साल है, जब इंडस्ट्री ने छंटनी की है। टेलिकॉम सेक्टर ने पिछले कुछ वर्षों में प्राइस वॉर, छोटी कंपनियों के बिजनस बंद करने और कुछ मर्जर देखे हैं। इस बीच कंपनियों के मुनाफे में कमी आई है।