डॉक्टरों की हड़ताल, मरीज बेहाल, केजीएमयू, एम्स, बीएचयू समेत बड़े अस्पतालों में ओडीपी सेवायें ठप

नई दिल्ली : कोलकाता के एनआरएस मेडिकल कॉलेज में जूनियर डॉक्टरों के साथ मारपीट के बाद से पूरे देश में डॉक्टर गुस्से में है। इसी को देखते हुए देश में डॉक्टरों के सबसे बड़े संगठन इंडियन मेडिकल एसोसिएशन ने सोमवार को देशव्यापी हड़ताल की है। दरअसल, देश के सभी डॉक्टर प्रदर्शनकारी रेजिडेंट डॉक्टरों की मांगें नहीं पूरी होने से नाराज चल रहे हैं। जिसके मद्देनजर आइएमए ने सोमवार को देशभर के सरकारी, गैर सरकारी मेडिकल कॉलेजों, अस्पतालों व नर्सिंग होम में ओपीडी सेवा ठप रखने की अपील की है। हालांकि, मरीजों के लिए एक राहत भरी खबर है कि इस दौरान अस्पतालों में इमरजेंसी सेवाएं चालू रहेंगी। बेंगलुरु के विक्टोरिया अस्पताल में डॉक्टरों ने हड़ताल कर अपना विरोध जताया है। सुप्रीम कोर्ट देशभर के सरकारी डॉक्टरों की सुरक्षा और सुरक्षा की मांग करने वाली याचिका पर कल सुनवाई करेगी। उत्तर प्रदेश के लखनऊ में किंग जॉर्ज मेडिकल यूनिवर्सिटी के डॉक्टर बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के चलते हड़ताल पर हैं। रांची में राजेंद्र इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज में डॉक्टरों ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा का विरोध किया।

ओडिशा के भुवनेश्वर में अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के डॉक्टरों ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के बाद विरोध प्रदर्शन किया। बनारस हिंदू विश्वविद्यालय के सर सुंदरलाल अस्पताल के डॉक्टर पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हुई हिंसा के विरोध में हड़ताल कर रहे हैं। गुवाहाटी मेडिकल कालेज के डॉक्टरों ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हुई हिंसा के विरोध में प्रदर्शन किया। अखिल भारतीय आयुर्विज्ञान संस्थान के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने पश्चिम बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के खिलाफ मार्च निकाला। दिल्ली में ऑल इंडिया इंस्टीट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज के रेजिडेंट डॉक्टर्स एसोसिएशन ने बंगाल में डॉक्टरों के खिलाफ हिंसा के समर्थन में सड़कों पर आए। आज दोपहर 12 बजे से आज सुबह 6 बजे तक हड़ताल करेंगे। लेकिन इस दौरान कैजुअल्टी, आईसीयू और लेबर रूम सहित इमरजेंसी सेवाओं को जारी रखा जाएगा। जयपुर के जयपुरिया अस्पताल में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की देशव्यापी हड़ताल के आह्वान के बाद डॉक्टर हड़ताल पर हैं। वड़ोदरा में इंडियन मेडिकल एसोसिएशन की हड़ताल की वजह से डॉक्टरों ने सर सयाजीराव जनरल अस्पताल में विरोध प्रदर्शन किया।