दलित किशोरी से गैंगरेप, आरोपी गिरफ्तार


लखनऊ : राजधानी के मड़ियांव में एक किराए के मकान में रहने वाली दलित किशोरी के साथ गैंगरेप का मामला सामने आया है। गैंगरेप के बाद आरोपियों ने ईंट-पत्थरों से किशोरी को कुचलकर मारने की कोशिश की। पुलिस ने एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है। पीड़िता ने तीन अज्ञात आरोपियों पर भी रेप का आरोप लगाया है। गौरतलब है की मंगलवार शाम से गायब किशोरी बुधवार शाम को गंभीर हालत में ट्रामा सेंटर में मिली। आरोपियों ने रेप के बाद किशोरी का चेहरा ईंट-पत्थरों से बुरी तरह कुचल दिया है। पीड़िता ने मानखेड़ा गांव के बउवा समेत तीन युवकों पर रेप का आरोप लगाया। पुलिस ने बउवा को गिरफ्तार कर लिया है।

प्रभारी निरीक्षक तेज प्रताप सिंह ने बताया कि मूलरूप से मलीहाबाद की रहने वाली किशोरी के पिता की मौत हो चुकी है, वह मड़ियांव में अपनी मां और चार भाइयों के साथ रहती है। मंगलवार शाम को वह घर से निकली, लेकिन देर रात तक नहीं लौटी। परिजनों उसकी खोजबीन की लेकिन कुछ पता नहीं लगा। इस बीच कुछ लोग एक किशोरी को बेहोशी व लहूलुहान हालत में ट्रामा सेंटर के गेट पर छोड़कर भाग गए। होश में आने पर किशोरी ने बताया कि मंगलवार शाम को घर से निकलते ही बउवा उसे सुनसान जगह ले गया. वहां उसके तीन और साथी थे। तीनों ने मुंह दबाकर उसके साथ जबरदस्ती की, विरोध किया तो चेहरे पर ईंट से कई हमला किए। किशोरी का कहना है कि इसके बाद वह बेहोश हो गई। उसके बाद क्या हुआ? वह कैसे ट्रामा सेंटर पहुंची? उसे कुछ नहीं पता। वहीं, पुलिस के अनुसार आरोपी बउवा का कहना है कि किशोरी उसकी परिचित है. उसे बाइक से गिरने की वजह से चोट लगी है।