दिल्ली से उठेगी अविरल निर्मल गंगा की आवाज, स्वामी ज्ञान स्वरूप कर रहे हैं अनशन

- in दिल्ली, राज्य
दिल्ली से अब गंगा नदी की अविरलता व निर्मलता की आवाज उठेगी। प्रो. जीडी अग्रवाल उर्फ स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद के आमरण अनशन के समर्थन में शुक्रवार को जल पुरुष राजेंद्र सिंह की अगुवाई में नदी प्रेमी राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और जल संसाधन मंत्री से मुलाकात की कोशिश करेंगे।दिल्ली से उठेगी अविरल निर्मल गंगा की आवाज, स्वामी ज्ञान स्वरूप कर रहे हैं अनशन

वहीं, 18 जुलाई को हरिद्वार से दिल्ली के लिए मार्च किया जाएगा। इसके अलावा देश की नामी हस्तियों का गंगा आंदोलन पर समर्थन जुटाने के लिए राजेंद्र सिंह निजी तौर पर उनसे मुलाकात करेंगे। बुधवार को दिल्ली के एनडी तिवारी भवन में हुई बैठक में इसका फैसला लिया गया।

इससे पहले स्वामी ज्ञान स्वरूप सानंद के समर्थन में राजघाट पर प्रार्थना सभा आयोजित की गई। इसमें राजेंद्र सिंह के अलावा बुंदेलखंड के वाटरमैन के नाम से मशहूर संजय सिंह, मेजर हिमांशु, उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री हरीश रावत, उत्तराखंड के पूर्व राज्य मंत्री धीरेंद्र प्रताप, स्वामी अग्निवेश सहित बड़ी संख्या में अलग-अलग प्रांतों में नदियों के लिए काम करने वाले समाजसेवियों ने हिस्सा लिया।

राजेंद्र सिंह ने इस मौके पर कहा कि प्रधानमंत्री चार साल से गंगा नदी की अविरलता व निर्मलता के वादे को पूरा नहीं सके। इसी वजह से स्वामी सानंद का भरोसा टूट गया। वह 22 जून से हरिद्वार के मातृ सदन में आमरण अनशन पर बैठे थे।

अनशन पर बैठने से पहले उन्होंने प्रधानमंत्री को तीन पत्र भी लिखे, लेकिन कोई जवाब नहीं आया। अब 10 जुलाई को बगैर पूर्व सूचना के उत्तराखंड पुलिस उन्हें जबरन उठा ले गई, यह गंगा के साथ अन्याय है।

वहीं, संजय सिंह ने बताया कि शाम को एनडी तिवारी भवन में आंदोलन की रणनीति तैयार करने के लिए सभा हुई। राजेंद्र सिंह की अगुवाई में आंदोलन को देशव्यापी बनाया जाएगा। वह बृहस्पतिवार को देश के सभी पूर्व राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री, मंत्री, संस्कृति कर्मी और समाजसेवियों से मुलाकात कर समर्थन जुटाएंगे।

वहीं, शुक्रवार को राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री व जल संसाधन मंत्री से मुलाकात कर ज्ञापन दिया जाएगा। इसके अलावा 18 जुलाई को हरिद्वार से दिल्ली के लिए यात्रा निकलेगी। उसी दिन हर राज्य में नदी प्रेमी प्रार्थना सभा करेंगे। दिल्ली पहुंचकर यात्रा पूरे देश में गंगा की आवाज पहुंचाएगी।