नाग देवता की पूजा के लिए ये जानें सबसे शुभ मुहूर्त


ज्योतिष डेस्क : नाग पंचमी 2018 बुधवार 15 अगस्त को पद रही है। नाग देवता की पूजा विशेष महत्व रखता है। इस दिन नाग देवता की आराधना से साक्षात् शिव की विशेष कृपा प्राप्त होती है। नाग देवता भगवान शिव के गले का आभूषण है। भगवान विष्णु की सवारी है नाग (शेषनाग), इसके अलावा भी वेदों और पुराणों में नाग देवता के विषय में विस्तार से वर्णन किया गया है। पुराणों में कहा गया है कि शिव को प्रिय श्रावण का महीना चल रहा है, लेकिन शिव भक्ति के अलावा इस महीने में उनके आभूषण के रूप में जाने गए नाग देवता की भी पूजा की जाती है। यह पर्व नाग पंचमी के नाम से जाना जाता है। इस दिन पूर्ण विधि-विधान से लोग नाग देवता की पूजा करते हैं, उन्हें शुद्ध दूध का भोग लगाते हैं और अपनी मनोकामना पूर्ण होने की प्रार्थना करते हैं। कुछ लोग तो इसदिन व्रत भी करते हैं। लेकिन अगर आप केवल पूजन करने जा रहे हैं तो आपको इस बार की नाग पंचमी से संबंधी पूजा का शुभ मुहूर्त और यह त्यौहार ज्योतिष अध्ययन के अनुसार कितनी अवधि का है यह भी बता देते हैं। ज्योतिषियों के अनुसार नाग पंचमी का पर्व 15 अगस्त 2018 की सुबह 7 बजकर 1 मिनट पर प्रारंभ हो जाएगा जो कि शाम 6 बजकर 38 मिनट तक चलेगा। लेकिन पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 7 बजे से 8 बजकर 25 मिनट का है।