नौ माह की गर्भवती को पति ने छोड़ा, घर में नहीं है अन्न का एक भी दाना

- in अपराध
आगरा में नौ माह की गर्भवती महिला पिछले 10 दिनों से पति के घर वापस आने का इंतजार कर रही है। उसकी डिलीवरी का वक्त भी नजदीक आ गया है। घर का राशन खत्म होने की वजह से कई बार उसने सिर्फ पानी पीकर गुजारा किया। 

नौ माह की गर्भवती को पति ने छोड़ा, घर में नहीं है अन्न का एक भी दाना

मायके वालों को पता लगने पर बेटी के पास मां पहुंची, लेकिन मां भी निर्धन होने की वजह से सिर्फ सहानुभूति ही दे सकी। मामला बोदला थाना क्षेत्र की युवती का है। बुधवार को युवती लेडी लॉयल स्थित आशा ज्योति केंद्र पहुंची। 

युवती ने काउंसलर को बताया कि पति ऑटो चलाता है। दो बच्चे हैं और नौ माह की गर्भवती है। डिलीवरी कराने का खर्च पति को नहीं उठाना पड़े, इसलिए वो घर छोड़कर चला गया। 10 दिन से उसके घर वापस आने का इंतजार कर रहीं है। 

घर में नहीं है राशन

घर का राशन भी अब खत्म हो गया। इसकी वजह से कई बार पानी पीकर ही गुजारा करना पड़ा। मायके वालों को सूचना लगने पर उसकी मां पहुंची। मां भी निर्धन होने की वजह से बेटी की थोड़ी ही सहायता कर सकी। 

युवती ने बताया कि वो पति के साथ किराये के घर में रहती है। पति और सास यह बच्चा नहीं चाहते थे। डिलीवरी का वक्त आने पर पति अपनी मां के घर चला गया।
 
वहीं काउंसलर ने जब युवक को फोन पर काउंसलिंग के लिए बुलाया तो उसने आने से इंकार कर दिया और पत्नी से अलग होने की बात कहने लगा। जिस पर काउंसलर ने युवक पर पुलिस से दबाव बनवाया और उसे दो दिन के अंदर केंद्र पर बुलाया।