पति के सामने ही महिला पुलिसकर्मी के साथ सीनियर करने लगा घिनौना काम, फिर हुआ ये…

- in अपराध

महिला पुलिसकर्मियों को अपने महकमे के लोगों से कैसी-कैसी प्रताडना झेलनी पडती है, ऐसी मामलों को कई बार खुलासा हो चुका है। लेकिन हाल में हुए एक मामले ने तो सारी सीमायें ही पार कर दी। दरअसल एक महिला पुलिसकर्मी पर उसका सीनियर पुलिस वाला लगातार संबंध बनाने का दबाव बना रहा था।

वह उसे बार-बार फोन करता और उसके पास आकर संबंध बनाने के लिये कहता, लेकिन महिला पुलिसकर्मी उससे अपना पीछा छुडाती रही। लेकिन एक दिन उसने हद ही पार कर दी। महिला पुलिसकर्मी अपने घर के बाथरुम में कपडे धो रही थी तभी सीनियर पुलिसवाला आया और उसे पीछे से दबोच लिया, और उसके बाद वह उसके साथ लगातार….

पंचकूला पुलिस लाइन में रह रही एक महिला कांस्टेबल ने अपने ही विभाग के एक हेड कांस्टेबल पर छोड़छाड़ का मामला दर्ज करवाया है। महिला का आरोप है कि कई महीने बीत जाने के बाद भी उसकी शिकायत पर कोई कार्रवाई नहीं हुई है, जबकि पुलिस विभाग के ही कुछ कर्मचारी उस पर समझौता करने का दबाव बना रहे हैं। महिला द्वारा अब मीडिया में खुलकर बयान देने पर सरकार भी हरकत में आई है। मंत्री कविता जैन ने बयान देकर कहा है कि महिला को न्याय दिलवाया जाएगा और आरोपी के खिलाफ कार्रवाई की जाएगी। अब महिला की जांच पुलिस विभाग के आला अधिकारी को सौंप दी गई है। शिकायतकर्ता कांस्टेबल ने बताया कि वह पंचकूला पुलिस लाइन में रहती है। उसके घर के नजदीक हेड कांस्टेबल बिजेंद्र व उसकी एएसआई पत्नी रहते हैं। आरोप है कि बिजेंद्र काफी दिनों से उसे परेशान कर रहा था। वह उसे फोन कर संबंध बनाने के लिए भी कहता था। महिला कांस्टेबल ने इसका कई बार विरोध किया। आरोप है कि एक दिन वह घर में अकेली थी और कपड़े धो रही थी।

इसी दौरान बिजेंद्र अंदर आया और पीछे से पकड़ लिया। उसने उसे धक्का दे दिया। इसके बाद भी बिजेंद्र ने इस तरह की छेड़छाड़ जारी रखी। कांस्टेबल का कहना है कि एक दिन वह फिर कपड़े धो रही थी, उसने फिर से गलत इशारे करने शुरू कर दिए। कांस्टेबल ने उसकी इस हरकत पर बिजेंद्र को जोर-जोर से सुनाना शुरू कर दिया। यह सुनकर वह गाली देते हुए घर के अंदर आ गया और उसकी तरफ बढ़ने लगा। यह देख पीड़िता का पति उसके सामने आ गया। यह देख बिजेंद्र उन्हें गाली देने लगा और बोला कि तुम दोनों को जान से मार दूंगा। पीड़िता का आरोप है कि हेड कांस्टेबल बिजेंद्र ने उसके चरित्र पर भी सवाल उठाए और सरे आम बेइज्जत भी किया। पुलिस ने आरोपी हेड कांस्टेबल के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है लेकिन इस पर कोई कार्रवाई नहीं हुई तो पीड़िता मीडिया के सामने आ गई। पीड़िता का आरोप है कि पुलिस विभाग के ही कुछ लोग इस मामले को दबाने के लिए उस पर दबाव बना रहे हैं। वहीं मामला उछलने के बाद पुलिस विभाग ने इसकी जांच एक आला अधिकारी को सौंप दी है। वहीं मंत्री कविता जैन का कहना है कि पीड़िता को न्याय दिलवाया जाएगा। मामले की जांच करवाई जाएगी।