पाकिस्तान के सबसे बड़े आतंकी चीफ मुल्ला फजलुल्ला को अमेरिका ने मार गिराया

अमेरिका के सैन्य अधिकारी ने वॉयस ऑफ अमेरिका (वीओए) को बताया है कि उन्होंने तहरीक-ए-तालिबान के मुखिया मुल्ला फजल उल्लाह को मार गिराया है। उन्होंने ड्रोन हमले के जरिए उसे अपना निशाना बनाया जिसमें उसकी मौत हो गई। लेफ्टिनेंट कर्नल मार्टिन ओ डोन्नेल ने वीओए को बताया कि पाकिस्तान और अफगानिस्तान की सीमा पर कुनार प्रांत में 13 जून को आतंकवाद का मुकाबला करते समय हमले किए गए।

पेंटागन के अधिकारी ने यह बताने से मना कर दिया कि हमला सफल रहा था या नहीं। अधिकारियों ने कहा कि मुल्ला फजल उल्लाह ने पाकिस्तान और अमेरिका में हुए कई बड़े हमलों को संचालित किया है। वह बहुत से घातक हमलों का आयोजक रहा है जिसमें दिसंबर 2014 को पेशावर के आर्मी पब्लिक स्कूल में हमला शामिल है। इसमें 151 लोगों की जान चली गई थी जिसमें 130 बच्चे थे।

अमेरिका का दावा है कि मुल्ला फजल ने ही साल 2012 में नोबल पुरस्कार विजेता मलाला युसूफजई को गोली मारने का आदेश दिया था। अमेरिकी विभाग ने मार्च में फजलुल्लाह पर 5 मिलियन डॉलर का ईनाम रखा था। उसके बेटे की अमेरिकी ड्रोन हमले में मौत हो गई थी। अधिकारी का कहना है कि फजलुल्लाह की स्थिती अभी तक साफ नहीं है। हालांकि हमले में उसकी मौत की अभी पुष्टि नहीं हो पाई है।