पीएम बोले- ‘संकल्प से स‌िद्ध‌ि’ है 22वें युवा महोत्सव की थीम, जानिए इसका मतलब

राष्ट्रीय युवा महोत्सव में पीएम मोदी देशभर के युवाओं को प्रेस कांफ्रेंस के जर‌िए संबोध‌ित कर रहे हैं। इसके साथ ही पीएम ने 22वें राष्ट्रीय युवा महोत्सव की शुरुआत की। पीएम ने अपने भाषण की शुरुआत देश के वैज्ञान‌‌िकों  युवा महोत्सव में पहुंचकर सीएम योगी ने देश के युवाओं का आह्रवान क‌िया और भारत को व‌िश्व का सबसे युवा देश बताया है। देश के युवाओं को ऊर्जा का प्रतीक बताया है।  मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ की अध्यक्षता में कार्यक्रम चलेगा और वह युवाओं को प्रेरित कर रहे हैं।

इसके बाद परमवीर चक्र विजेता योगेंद्र सिंह यादव व अन्य युवाओं को संबोधित करेंगे। महोत्सव का समापन 16 जनवरी को होगा और इस दौरान विविध सांस्कृतिक कार्यक्रमों से जीबीयू परिसर का माहौल रंगारंग बना रहेगा।

युवा महोत्सव में मौके पर युवा कार्यक्रम एवं खेल मंत्री भारत सरकार राज्यवर्धन सिंह राठौड़ और संस्कृति मंत्रालय के राज्यमंत्री स्वतंत्र प्रभार डॉ. महेश शर्मा युवाओं से रूबरू होंगे। इस दौरान विख्यात वक्ता विजय बतरा भी युवाओं को प्रेरित करेंगे।

इसके बाद सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जाएगा, जिसमें अलग-अलग प्रदेशों की लोक-कला की झलक देखने को मिलेगी, वहीं डिजिटल इंडिया और बेटी बचाओ-बेटी पढ़ाओं पर कार्यक्रम प्रस्तुत किए जाएंगे। इसके बाद मुख्यमंत्री और अन्य अतिथि देश भर से आए अपने-अपने क्षेत्रों में ख्याति प्राप्त करने वाले युवाओं में से चुने गए तीन युवाओं को सम्मानित करेंगे।

हर दिन सुबह योग कार्यक्रम 

महोत्सव के अंतर्गत कार्यक्रमों की शुरुआत प्रतिदिन सुबह सात बजे योग से होगी। 14 जनवरी को योग गुरु बाबा रामदेव के आने का कार्यक्रम है, जबकि सचिन तेंदुलकर व अभिनेता अक्षय कुमार के आने पर फिलहाल असमंजस बना है।

ख्यातिप्राप्त व्यक्तियों के साथ युवाओं का वार्तालाप
युवा महोत्सव में ख्यातिप्राप्त व्यक्तियों के साथ युवाओं के वार्तालाप पर 18 सत्र आयोजित किए जाएंगे। जिसमें विभिन्न क्षेत्रों के व्यक्तियों के अलावा करियर परामर्श वार्ताकार भी शामिल होंगे।

पैनल चर्चाएं
स्वच्छता, नदी संरक्षण समेत विशेष रूप से नमामि गंगे, डिजिटल मुद्रा, वित्तीय समावेशन, लाभार्थियों को प्रत्यक्ष लाभ हस्तांतरण (डीबीटी), बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, कैशलेस इंडिया, वृद्धों के प्रति संवेदनशीलता, पर्यावरण संरक्षण, सच्ची नागरिकता आदि पर चर्चाएं होंगी।

कार्यशालाएं
सरकारी योजनाओं जैसे जैविक खेती, सामाजिक व आर्थिक मुद्दों, किसान, क्रेडिट कार्ड, स्टार्ट अप इंडिया, स्किल इंडिया, कला शिल्प सहित अन्य पर कार्यशालाएं आयोजित होंगी।

दो दिन की युवा संसद

बेटी बचाओ बेटी पढ़ाओ, डिजिटल इंडिया, स्वच्छता, नदी संरक्षण समेत विशेष रूप से नमामि गंगे आदि विषयों पर युवाओं की चर्चा होगी, जिसमें करीब 6000 हजार युवा हिस्सा लेंगे। वे सकारात्मक दृष्टिकोण से अपने सुझाव रखेंगे।

बास्केटबाल, बैडमिंटन खेलों का आयोजन
युवा महोत्सव में प्रतिदिन बास्केटबॉल, बैडमिंटन आदि खेलों का आयोजन किया जाएगा।

युवा महोत्सव में छह हजार युवाओं के पहुंचने का अनुमान
नेहरू युवा केंद्र की ओर से 623 जिलों से करीब 3500 हजार युवाओं को आमंत्रित किया गया है। इसके अलावा एनसीसी, एनएसएस और शहर के कई अन्य कॉलेज और विश्वविद्यालयों से करीब 2500 युवाओं को बुलाया गया है, जिसमें 50 फीसदी छात्राएं होंगी।

कुछ नई पहल भी शुरू की गई
1. केंद्रीय मंत्रालयों के महत्वपूर्ण कार्यक्रमों पर प्रदर्शनी और कार्यक्रम
2. सूचनात्मक और प्रेरक फिल्मों की स्क्रीनिंग
3. संकल्प से सिद्धि पर लघु फिल्म प्रतियोगिता-मैं नए भारत के लिए क्या कर सकता हूं।
4. स्थानीय कलाकारों द्वारा सांस्कृतिक संध्या और उत्तर प्रदेश से पारंपरिक कला और नृत्य की प्रस्तुति।