पूनम रानी व अभिषेक ड्राल बने नेशनल जैवलिन थ्रो ओपन चैंपियनशिप के विजेता

- in खेल


लखनऊ : हरियाणा की पूनम रानी ने जैवलिन में भविष्य की प्रतिभाओं को तलाशने के लिए आयोजित नेशनल जैवलिन थ्रो ओपन चैंपियनशिप में शानदार प्रदर्शन करते हुए महिला वर्ग का स्वर्ण पदक अपने नाम किया। वहीं पुरूष वर्ग के चैंपियन बनने का गौरव दिल्ली के अभिषेक ड्राल ने हासिल किया। इस चैंपियनशिप में मेजबान यूपी के लिए बालक अंडर-20 आयु वर्ग में आशीष चौधरी (66.93 मी.), बालक अंडर-16 आयु वर्ग में सूरज कुमार (71.23 मी.), बालिका अंडर-18 आयु वर्ग में साक्षी शर्मा (36.78 मी.) ने स्वर्ण पदक जीते। यूपी के एथलीटों ने चैंपियनशिप में तीन स्वर्ण, दो रजत व चार कांस्य पदक जीते। यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन के तत्वावधान में 35वीं वाहिनी पीएसी के सिंथेटिक एथलेटिक्स स्टेडियम में आयोजित इस चैंपियनशिप में देश भर के 76 एथलीटों ने हिस्सा लिया जिसमें सबके बीच इस बात की जद्दोजहद दिखी कि उन्हें फिनलैंड टेªनिंग के लिए जाने वाले दल में जगह बनानी है। हाल ही में एशियाड में रिकार्ड प्रदर्शन के साथ स्वर्ण पदक जीतने वाले जैवलिन थ्रोअर नीरज चोपड़ा की तरह देश का नाम चमकाने के लिए सब तैयार दिखे। इस दौरान महिला वर्ग में हरियाणा की पूनम रानी ने 52.48 मी.थ्रो करते हुए स्वर्ण पदक अपने नाम किया। इस वर्ग का रजत पदक हरियाणा की ही शिल्पा रानी (40.15) ने जीता जबकि महाराष्ट्र की गीता शिंदे (37.93 मी.) को कांस्य पदक से संतोष करना पड़ा। पूनम रानी ने अपने दूसरे ही प्रयास में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए स्वर्ण पदक जीता। पूनम का थ्रो इस कदर तगड़ा रहा कि रजत पदक विजेता हरियाणा की शिल्पा (40.15 मी.) उनसे लगभग दस मी. पीछे रही।

वहीं पुरूष वर्ग का स्वर्ण पदक दिल्ली के अभिषेक ड्राल (73.00 मी.) ने थ्रो करते हुए जीता। उन्होंने अपने पहले ही प्रयास में यह थ्रो किया और बाकी सबपर भारी पड़ते हुए चैंपियन बने। हरियाणा के विक्रांत मलिक ने 69.04 मी. थ्रो करते हुए रजत पदक जीता जबकि उत्तर प्रदेश के जितेंद्र सिंह (68.98) मी. थ्रो करते हुए कांस्य पदक के हकदार बने। बालक अंडर-20 आयु वर्ग में यूपी के आशीष चौधरी ने सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन करते हुए 66.93 मी. थ्रो करते हुए स्वर्ण पदक जीता। उनको कड़ी टक्कर दे रहे तमिलनाडु के एस.ब्रेवमैन हार्ट (66.39 मी) ने रजत पदक जीता जबकि उत्तर प्रदेश के ही ऋषभ नेहरा (64.89 मी.) को कांस्य पदक मिला। बालक अंडर-18 आयु वर्ग में हरियाणा के साहिल सिलवाल (72.92 मी.) ने स्वर्ण पदक, बिहार के सुदामा कुमार यादव (71.71 मी.) ने रजत व उत्तर प्रदेश के नंदकिशोर सिंह (70.06 मी) ने कांस्य पद जीता। बालक अंडर-16 आयु वर्ग में उत्तर प्रदेश के सूरज कुमार ने 71.23 मी.थ्रो करते हुए स्वर्ण पदक जीता। उन्होंने यह प्रदर्शन अपने चौथे प्रयास में किया। उत्तर प्रदेश के इजहार अहमद (66.26 मी.) ने रजत व गुजरात के श्याम (61.49) ने कांस्य पदक जीता। बालिका अंडर-20 आयु वर्ग में आसाम की रूंजन पेगू ने 43.21 मी. थ्रो करते हुए स्वर्ण पदक जीता। तमिलनाडु की हेमा मालिनी ने 39.10 थ्रो करते हुए रजत पदक जीता। हालांकि इस स्पर्धा में तीन ही प्रतिभागी थे लेकिन केरल की श्रीरंजनी निर्धारित समय में स्टार्ट ही नहीं ले सके। इसलिए इस स्पर्धा में स्वर्ण व रजत पदक ही दिए गए। बालिका अंडर-18 आयु वर्ग में उत्तर प्रदेश की साक्षी शर्मा (36.78 मी.) थ्रो करते हुए स्वर्ण पदक जीता। स्पर्धा की रजत पदक विजेता उत्तर प्रदेश कीवर्षा वर्मा (35.54 मी.) व कांस्य विजेता उत्तर प्रदेश की ही मृणालिनी सिंह (35.08 मी.) रहीं। इससे पहले चैंपियनशिप का उद्घाटन पीके श्रीवास्तव (कोषाध्यक्ष, एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया) ने किया। वहीं समापन समारोह में सनी जोशुआ (उपाध्यक्ष, एथलेटिक्स पफेडरेशन ऑपफ इंडिया ), अशोक गुप्ता (कोषाध्यक्ष, यूपी एथलेटिक्स एसोसिएशन) व बीआर वरूण (लखनऊ जिला एथलेटिक्स एसोसिएशन) ने पुरस्कार वितरित किए। एथलेटिक्स फेडरेशन ऑफ इंडिया इस जैवलिन चैलेंज के माध्यम से सोलह श्रेष्ठ एथलीटों को चुनकर फिनलैंड में दो साल की मुफ्त ट्रेनिंग के लिए भेजेगी।