प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू की किताब का किया अनावरण


नई दिल्ली : उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू द्वारा लिखी किताब का प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज अनावरण किया। इस मौके पर पूर्व प्रधानमंत्री डॉ मनमोहन सिंह भी मौजूद थे। उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू द्वारा लिखी किताब का अनावरण हुआ है उसका नाम मूविंग ऑन… मूविंग फॉरवर्ड : ए इयर इन ऑफिस है। इस मौके पर पीएम मोदी ने वेंकैया नायडू और अटल बिहारी वाजपेयी से जुड़ा एक किस्सा शेयर किया। उन्होंने कहा कि अटल जी वेंकैया नायडू को मंत्रालय देना चाहते थे। तब इस पर वेंकैया नायडू ने कहा कि मुझे ग्रामीण विकास मंत्री बना दीजिए। इसका कारण दिल से किसान होना है। वे किसानों की बेहतरी और खेती के लिए कुछ अच्छे कदम उठाना चाहते थे।

किताब अनावरण के मौके पर उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू ने कहा कि कृषि को निरंतर समर्थन की आवश्यकता है। वित्त मंत्री यही हैं। उन्हें सभी का बराबर ख्याल रखना है, लेकिन खेती पर ध्यान देने की आवश्यकता है। आजकल लोग खेती को छोड़ रहे हैं क्योंकि यह लाभकारी नहीं है। उपराष्ट्रपति की किताब में देश के कई मुद्दों सहित नया भारत बनाने के मिशन की बात का जिक्र है। यह पुस्तक 245 पृष्ठ वाली पुस्तक है। इसमें भारत को नई दिशा देने वाली चुनौती पर चर्चा है। गौरतलब है कि वेंकैया नायडू का जन्म एक जुलाई 1949 को हुआ था। ये भाजपा के अध्यक्ष के साथ साथ कई विभागों के मंत्री भी रहे हैं। इसके बाद 11 अगस्त 2017 को भारत के 13वें उपराष्ट्रपति के रुप में शपथ लिए थे।