फूल जैसी इस लड़की का दरिंदे जीजा ने किया ऐसा हाल, देखकर सहम जाएंगे आप, बच्‍चे न देखें

- in अपराध

आज हम आपको एक ऐसी कहानी बताने जा रहे हैं जिसके बारे में सुनकर आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। जी हां एक तरफ जहां हमारे देश में कल सभी महिला दिवस मना रहे थें वहीं इसी देश में आए दिन लड़कियों के साथ कुछ ऐसी घटनाएं सुनने को मिलती है जिसे सुनकर ही आपके रौंगटे खड़े हो जाएंगे। आप सोच रहे होंगे कि हम ऐसा क्‍यों कह रहे हैं तो आपको बता दें कि हाल ही में एक ऐसी घटना सामने आई है जिसे सुनकर आप भी यही कहेंगे। वो लड़कियां जो बाहर काम करने के साथ साथ अपने घर को भी संभालती है उनके मन में हर शाम को यही डर रहता है कि वो सही सलामत घर पहुच जाएं क्‍या आप लोग इसका जवाब दे सकते हैं या फिर क्‍या वो लोग इसका जवाब दे सकते हैं जो कल वुमेंस डे सेलि‍ब्रेट कर रहे थें।

आप आए दिन अखबारों व न्‍यूज चैनलों में सुनते होंगे कि छोटी बच्चियां हो या फिर उम्रदराज महिला किसी के भी साथ रेप की खबरें आती र‍हती है। यानि आप ये तो अंदाजा लगा ही सकते हैं कि महिलाएं कितनी असुरक्षित हो गई हैं। आजके समय में महिलाएं बाहर तो दूर अपने घर में भी सुरक्षित नहीं है। हाल ही में जो घटना सामने आई है वो भी कुछ ऐसी है भटिंडा की रहने वाली अमनप्रीत कौर के साथ भी कुछ ऐसा ही हुआ। उसके जीजा ने ही उसके साथ जानवरों से भी बद्तर सलूक किया।

बता दें कि अमनप्रीत भटिंडा में एक ब्यूटी पारलर चलाती हैं। ये घटना साल 2011, 31 जनवरी को हुई जब वो अपना काम खत्‍म कर घर आ रही थीं। वो काम से घर रिक्शे में अपनी माँ के साथ लौट ही रहीं थीं तभी कुछ बाइक सवार अज्ञात लोगों ने आकर उनके सर पर कुछ तरल पदार्थ डाल दिया। वो इसे समझ जाती इससे पहले ही अमनप्रीत के पूरे शरीर में जलन होने लगी।

जी हां क्‍योंकि वो तरल तरल पदार्थ जो अमनप्रीत पर डाला गया था वो तेजाब था। सर से होते हुए तेज़ाब जहाँ जहाँ भी गया उसका वो हिस्‍सा बेकार होते गया और बाइक सवार भी भाग गए। लेकिन हैरानी तो इस बात की हुई की जब ये हादसा हुआ तब वहां लोग तो काफी थें लेकिन किसी ने उसकी मदद नहीं की। करीब 10-15 मिनट के बाद अमनप्रीत अपनी माँ के साथ घायल वहीँ रोती रहीं लेकिन किसी ने उनकी मदद नही की। काफी समय बाद एम्बुलेंस आई और उन्हें अस्पताल ले जाया गया, लेकिन तब तक अमनप्रीत की हालत इस कदर बिगड़ गयी थी कि उन्हें पीजीआई चंडीगढ़ रेफेर किया गया।

बताया जाता है कि अभी तक अमनप्रीत लगभग 40 सर्जरी करा चुकी हैं उनके पिता बताते हैं कि इस हादसे ने मेरी बेटी की ज़िन्दगी ही नहीं बल्कि मेरी पत्नी की जिंदगी भी बर्बाद कर दी। पत्‍नी इस हादसे में ज्‍यादा गंभीर चोट नहीं आई लेकिन बेटी बुरी तरह झुलस गई। इस हादसे में अमनप्रीत की बेटी का नाक, कान, व चेहरा और सिर बुरी तरह झुलस गए थे।

अमनप्रीत के पिता ने बताया कि वो अपनी बेटी के इलाज़ कराने के लिए जाते थें तो उनके साथ जानवरों से बदतर सलूक किया जाता था। लेकिन फिर भी वो सबकुछ सहने को तैयार थें उन्‍होंने बताया कि मुझे ऐसा बेड दिया था जहाँ एक तरफ लाशें पड़ीं हुआ करती थीं और दूसरे बेड पर मेरी बेटी और पत्नी होते थे। मैं ज़मीन पर सोता था बस इस आस में कि मेरी बेटी का इलाज़ हो जाये। उस दौरान कोई भी उनकी मदद करने नहीं आया। बड़े बड़े मंत्रियों से लेकर हर जगह गुहार लगाई लेकिन कोई नहीं सुना।

जब इस घटना की जांच पुलिस ने की तो हैरान कर देने वाली बात सामने आई जी हां क्‍योंकि अमनप्रीत पर ये जानलेवा हमला उसके जीजा ने ही करवाया था। अमनप्रीत की मां ने बताया कि आरोपी दलजिंदर सिंह की शादी भले ही बड़ी बेटी से हुई थी लेकिन वो पत्नी की बहन अमनप्रीत कौर पर बुरी नजर रखता था जिसका विरोध किया गया तो उसने ऐसा करवाया। अब आरोपी का उसकी बहन से तलाक का केस चल रहा है।