फ्रांस ने दूसरी बार जीता फीफा विश्व कप का खिताब, क्रोएशिया को 4-2 से हराया


मास्को : फीफा विश्व कप के 21वें संस्करण का फाइनल मुकाबला फ्रांस व क्रोएशिया के बीच खेला गया। इस बेहद रोमांचक मुकाबले में फ्रांस ने क्रोएशिया को 4-2 से हराकर दूसरी बार फीफा विश्व कप खिताब पर कब्जा किया। क्रोएशिया पहली बार फाइनल में पहुंची थी लेकिन उसे उपविजेता रहकर संतोष करना पड़ा। इस पूरे मैच में कुल छह गोल किए गए। फ्रांस ने इससे पहले वर्ष 1998 में अपना पहला विश्व कप खिताब जीता था। इसके बाद वो वर्ष 2006 में फाइनल तक पहुंची थी, लेकिन वहां उसे इटली के हाथों हार का सामना करना पड़ा था। ये तीसरा मौका था जब फ्रांस की टीम फाइनल में पहुंची थी और उसने जीत हासिल की। फाइनल मुकाबले में एंटोनी ग्रीजमैन को उनके शानदार प्रदर्शन के लिए मैन ऑफ द मैच चुना गया। पहले हाफ के 18वें मिनट में क्रोएशिया की तरफ से ओन गोल हुआ और ये फ्रांस के लिए शानदार साबित हो गया। इस गोल की मदद से फ्रांस ने क्रोएशिया पर 1-0 की बढ़त बना ली।

दरअसल एंटोनी ग्रीजमैन की फ्री किक पर क्रोएशिया के ही मारियो के सिर से लगकर गेंद गोलपोस्ट में चली गई। ओन गोल से फ्रांस आगे था लेकिन क्रोएशिया ने 28वें मिनट में ही गोल दागकर अपनी गलती को सुधारा और स्कोर 1-1 से बराबर कर लिया। क्रोएशिया के लिए इवान पेरीसिच ने फ्री किक पर शॉट लगाकर गोल किया और टीम को बराबरी पर ला दिया। फ्रांस की तरफ से खेल के 38 वें मिनट में एंटोनी ग्रीजमैन ने गोल दागकर अपनी टीम को 2-1 से बड़ी बढ़त दिला दी। ग्रीजमैन ने गोल करने के लिए अपनी किक बाईं तरफ लगाई लेकिन क्रोएशिया के गोलकीपर डेनिजेल सुबासिच दूसरी तरफ डाइव लगा बैठे और फ्रांस का गोल मिल गया। पहले हाफ में फ्रांस की टीम पूरी तरफ से क्रोएशिया पर हावी रही और इसका नतीजा साफ तौर पर दिखा। खेल के दूसरे हाफ में दोनों टीमों की तरफ से आक्रामक खेल जारी रहा। खेल के छठे मिनट में कुछ दर्शक मैदान में घुस आए जिसे वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने बाहर निकाला।

वहीं खेल के 59 वें मिनट में फ्रांस के पॉल पोग्बा ने अपनी टीम के लिए एक और गोल दागा और लगभग टीम की जीत पक्की कर दी। इस गोल के बाद फ्रांस की बढ़त 3-1 की हो गई। पॉल पोग्बा के रफ्तार को रोक पाना क्रोएशिया की टीम को लिए नामुमकिन दिखा। फ्रांस के एम्बापे ने खेल के 65 वें मिनट में गोल करके अपनी टीम का स्कोर 4-1 कर दिया। इसके ठीक बाद क्रोएशिया ने एक गोल और दागकर स्कोर को 4-2 कर दिया। क्रोएशिया के लिए खेल के 69वें मिनट में मांजुकिच ने गोल किया। दूसरे गोल के बाद क्रोएशिया की कोशिश लगातार जारी रही लेकिन फ्रांस की टीम ने उसे कोई मौका नहीं दिया। 90 मिनट का खेल खत्म होने तक फ्रांस ने क्रोएशिया पर 4-2 की बढ़त बरकरार रखा।