बचपन की खूबसूरत मासूमियत का पतन दिखाती है एचआर दास की पेंटिंग प्रदर्शनी

- in मनोरंजन

मुंबई : एचआर दास लंबे दशकों से भारत और विदेशों में विभिन्न प्रदर्शनियों के माध्यम से अपनी कलात्मक प्रतिभा का प्रदर्शन कर रहे हैं। उनकी सौंदर्यपूर्ण और प्रफुल्लित करने वाली “बुल” श्रृंखला ने पूरे कला क्षेत्र के आंतरिक मन में एक मूल्यवान स्थान प्राप्त कर लिया है। उनकी प्रदर्शनी (पैराडाइश लॉस्ट) 13 मई तक मुंबई की जहांगीर आर्ट गैलरी में आयोजित की जा रही है जो सभी जीवित प्राणियों पर प्राकृतिक विकास के प्रचलित बुरे प्रभावों और बचपन के स्मरण के प्रतिबिंब दोनों का संकेत दे रही है। इसमें बचपन की खूबसूरत मासूमियत का पतन भी दिखाया है। सभी चित्रों के रंग संयोजन और विषय नई पीढ़ियों के लिए एक विशेष सार्थक संदेश को फैला रहे हैं। उनके साथ उनकी अर्द्धागिनी सुश्री दीपा दास ने भी अपनी नई श्रृंखला “पंचभुता” का प्रदर्शन किया है, जो नरम और शांत मिक्स मीडिया रंगों के त्रिकोणीय प्रिज्मीय खेल की अपनी अनूठी अभिनव ज्यामितीय रचना है।