बनारस में सीएम योगी, कहा- पीएम मोदी इस दौरे में देंगे बनारस को 1000 करोड़ की सौगात

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने संसदीय क्षेत्र के 13वें दौरे पर आने वाले हैं। 14 और 15 जुलाई के प्रस्तावित काशी दौरे के लिए चल रही तैयारियों का जायजा लेने सीएम बुधवार दोपहर शहर पहुंचे। उन्होंने राजातालाब जाकर कार्यक्रम स्थल का निरीक्षण किया और अधिकारियों को निर्देश दिया।बनारस में सीएम योगी, कहा- पीएम मोदी इस दौरे में देंगे बनारस को 1000 करोड़ की सौगात
पीएम मोदी यहां 14 जुलाई को जनसभा को संबोधित करेंगे। सीएम योगी ने यहां पीएम मोदी के सभास्थल का निरीक्षण कर जिला प्रशासन व पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक की। मुख्यमंत्री ने शिलान्यास व लोकार्पण से जुड़े विभागों के अधिकारियों के साथ योजनाओं की जानकारी भी ली।

मीडिया के साथ संक्षिप्त बातचीत में सीएम योगी ने कहा कि पीएम मोदी पूर्वी उत्तर प्रदेश के विकास के लिए संकल्पित हैं। वो अपने दो दिवसीय दौरे (14 व 15 जुलाई) के दौरान बनारस को 1000 करोड़ की परियोजनाओं का सौगात देंगे।

यहां से सीएम योगी वाराणसी सर्किट हाउस के लिए निकले जहां अभी अधिकारियों के साथ लोकार्पण और शिलान्यास होने वाली परियोजनाओं की जानकारी के साथ उनकी समीक्षा बैठक कर रहे हैं। सीएम के साथ भाजपा प्रदेश अध्यक्ष डॉक्टर महेंद्र नाथ पांडेय भी मौजूद है।
सीएम योगी को पॉवर प्वाइंट पर दिखाएंगे तैयारी

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रवास की तैयारियों को जानने बुधवार को वाराणसी आ रहे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ को अपनी मुकम्मल व्यवस्था दिखाने को प्रशासन ने पॉवर प्वाइंट प्रजेंटेशन तैयार किया है।

इसमें प्रधानमंत्री के आगमन से लेकर पूरे प्रवास का मिनट टू मिनट तैयारी को प्रदर्शित किया गया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री की जनसभा से लेकर अन्य कार्यक्रमों में सुरक्षा और शहर से गुजरने वाले रूट आदि से जुड़ी तैयारियों पर चर्चा की जाएगी।

प्रधानमंत्री के वाराणसी प्रवास में जिलाधिकारी समन्वयक की भूमिका मेें होंगे। बाबतपुर से लेकर सभास्थल, डीरेका सहित शहर में करीब दो दर्जन मजिस्ट्रेट की तैनाती की जाएगी।

इसमें प्रधानमंत्री के गुजरने वाले रूट और दो दो रूट को विकल्पों के तौर पर रखा गया है। इसके अलावा प्रधानमंत्री के दौरे के मद्देनजर सीसीटीवी कैमरे आदि भी जगह जगह लगाए जा रहे हैं। इन सबका ब्यौरा मुख्यमंत्री के समक्ष रखा जाएगा।

प्रशासन ने वाराणसी के विकास में चल रही 500 करोड़ रुपये की 32 परियोजनाओं की सूची तैयार की है। इसमें एक एक परियोजना की पूरी विस्तृत रिपोर्ट भी मुख्यमंत्री के सामने रखी जाएंगी। यदि मुख्यमंत्री अचानक किसी परियोजना को मौके पर देखना चाहेंगे तो उसकी भी तैयारी की गई है।