बाराबंकी स्प्रिट कांड में दो और की मौत,स्प्रिट की दावत देने वाला हिरासत में

बाराबंकी। देवा कोतवाली क्षेत्र में स्प्रिट कांड में दो और लोगों की मौत हो गई। इस प्रकार मरने वालों की संख्या 11 से बढ़कर 13 हो गई है। शुक्रवार को मरे वृद्ध के परिवारीजन ने खुलकर स्प्रिट पीने की बात कही है। जबकि, एक अन्य युवक की मौत लखनऊ ट्रामा सेंटर में इलाज के दौरान हुई है। सलारपुर गांव में स्प्रिट की दावत देने वाले रामनरेश को पुलिस ने हिरासत में लेकर सीएचसी देवा में भर्ती कराया है। प्रभावित सात गांवों में एक्साइज इंटेलीजेंस ब्यूरो की टीम ने जांच शुरू कर दी है।

बाराबंकी स्प्रिट कांड में दो और की मौत,स्प्रिट की दावत देने वाला हिरासत में
बताते चलें कि बुधवार को सात गांवों में 11 लोगों की स्प्रिट पीने से मौत हो गई थी। इस घटना की जांच के लिए गृह विभाग के अधिकारियों की भी जांच टीम आनी है। स्प्रिट कांड में देवा कोतवाली क्षेत्र के ग्राम उदवतपुर मजरे टेराकला निवासी बहादुर की शुक्रवार की सुबह जिला चिकित्सालय में मौत हुई। बहादुर के पुत्र गंगाराम व बोधीराम ने बताया कि उसके पिता ने 10 जनवरी को देवा कस्बे से स्प्रिट की शीशी मंगवाकर पी थी।

इसके अलावा ग्राम मोहम्मदपुर निवासी प्रकाश गौतम को गुरुवार को उल्टी व पेट दर्द के बाद बिगड़ी दशा में सीएचसी से जिला चिकित्सालय इसके बाद ट्रामा सेंटर लखनऊ ले जाया गया। यहां इलाज के दौरान युवक की मौत हो गई। चिकित्सकों ने लिवर डैमेज होने की बात परिवारीजन को बतायी है। एसडीएम सदर सुशील प्रताप सिंह ने बताया कि मृतक बहादुर के दोनों पुत्रों ने अपने बयान में स्प्रिट पीने की जानकारी दी है। इससे पहले स्प्रिट पीने से हुई मौतों के मामलें की चल रही जांच में बहादुर की मौत का मामला भी शामिल किया जाएगा।

रामनरेश हिरासत में 

सलारपुर गांव में आठ जनवरी की रात मीट के साथ स्प्रिट की दावत देने वाले राम नरेश गौतम को पुलिस ने हिरासत में ले लिया है। रामनरेश ने भी स्प्रिट का सेवन किया था, ऐसे में पुलिस अभिरक्षा में उसका सीएचसी में उपचार करवाया जा रहा है।